मां ने गणेशोत्सव में साड़ी पहनने से रोका, तो 13 साल की बच्ची ने दुपट्टे से फंदा बना लगाई फांसी

ganesh utsav- India TV Hindi

प्रियंका कुमारी (संवाददाता)

पुणे (महाराष्ट्र): पुणे के एक परिवार पर तब दुखों का पहाड़ टूट पड़ा जब उन्‍होंने अपनी 13 वर्षीय बेटी को गणेशोत्सव के दिन साड़ी पहनने से रोक दिया, जिससे आहत होकर बच्‍ची ने आत्महत्या कर ली। गणेश चतुर्थी के दिन (19 सितंबर) जब 13 वर्षीय लड़की सुष्मिता पी. प्रधान ने गुस्सा दिखाया और साड़ी पहनकर भगवान गणेश का स्वागत करने पर जोर दिया। हालांकि, उसकी मां ने उसकी इच्छा पूरी करने से इनकार कर दिया, जिसके बाद गुस्साई लड़की ने खुद को बाथरूम में बंद कर लिया।

बाथरूम में दुपट्टे से लटकी थी बच्ची

जब वह काफी देर तक बाहर नहीं आई तो लड़की की बड़ी बहन ने बाथरूम का दरवाजा खटखटाया, लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई। उन्होंने खिड़की से अंदर झांका तो देखा कि सुष्मिता बाथरूम में दुपट्टे से लटकी हुई है, जिसके बाद उन्होंने दरवाजा तोड़ दिया। प्रधान परिवार उसे एक स्थानीय अस्पताल ले गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। घटना से इस शुभ दिन पर पूरे मोहल्ले में शोक छा गया।

7वीं कक्षा की छात्रा थी सुष्मिता
जांच अधिकारी एएसआई आशीष जाधव ने कहा कि देहु रोड पुलिस स्टेशन ने आकस्मिक मौत की रिपोर्ट दर्ज कर ली है और जांच कर रही है। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। सुष्मिता को उसके दोस्त एक जिंदादिल, मिलनसार और खुशमिजाज लड़की बताते थे। वह पुणे के देहु रोड इलाके में श्री शिवाजी विद्यालय में 7वीं कक्षा की छात्रा थी।

Leave a Comment