राजस्थान के फतेहपुर में बोले कांग्रेस नेता गोविंद सिंह डोटासरा- निर्दलीयों का कोई धर्म नहीं होता, हाकम अली को बनाएंगे मंत्री

govind singh dotasara- India TV Hindi

प्रियंका कुमारी (संवाददाता)

फतेहपुर: राजस्थान में विधानसभा चुनाव पास आते ही नेता अपने-अपने चुनावी क्षेत्रों में कैंपेन पूरे रंग में कर रहे हैं। आज फतेहपुर के ग्राम गांरिडा में  तीन सड़कों का लोकापर्ण और सीएचसी भवन का शिलान्यास करने कांग्रेस नेता गोविंद सिंह डोटासरा और विधायक हाकम अली पहुंचे थे। इस दौरान पीसीसी अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि उन्होंने और विधायक हाकम अली ने पूरे इलाके में विकास के नये कीर्तिमान बनायें हैं और पिछले विधायक की तुलना में फतेहपुर में दस गुना काम करवायें है।

“हाकम अली को निश्चित रूप से बनाएंगे मंत्री”

डोटासरा ने कहा कि वे पीसीसी चीफ की हैसियत से यह कह रहें है कि अगले चुनाव में हाकम अली के जीतने और कांग्रेस सरकार बननें पर वे निश्चित रूप से मंत्री बनेंगे। पूर्व विधायक भवरूं खां को याद करतें हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने ही सिखाया था कि व्यक्ति की जाति, धर्म देखकर विकास कार्य मत करो, बल्कि 36 कौम के लिए विकास कार्य करों। जिसकी पालना वे आज तक कर रहें हैं।

महरिया परिवार को बताया शेखावाटी की ईस्ट इंडिया कम्पनी
अपने संबोधन में डोटासरा ने बीजेपी से अधिक महरिया परिवार पर हमला बोला। डोटासरा ने कहा कि ये शेखावाटी की ईस्ट इंडिया कम्पनी है जो फतेहपुर, लक्ष्मणगढ़ और सीकर में सक्रिय है। इनका खात्मा करना जरूरी है। उन्होंने पूर्व विधायक नंदकिशोर महरिया पर व्यंग करते हुए कहा कि वे पहले भाजपा के साथ बैठे,फिर कांग्रेस के साथ आये, फिर चले गये और अब वे कहां हैं, किसी को पता नहीं। निर्दलीय का कोई धर्म नहीं होता। पीसीसी चीफ ने महरिया परिवार की राजनैतिक दखलदांजी पर कहा कि एमएलए वे, एमपी वे, भूमिविकास बैंक में वे, कॉपरेटिव बैंक में वे, सब जगह वे ही हैं। इस दौरान गोविंद सिंह ने जनता से जाति, धर्म से ऊपर उठकर वोट देंने की अपील की।

“पूर्वजों की पुण्याई से बचे थे हाकम अली”
अपने संबोधन के दौरान कांग्रेस नेता गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि गत विधानसभा चुनावों में हाकम अली अपने पूर्वजों की पुण्याई, पूर्व विधायक भवरूं खां की भलमानसी से और जनता के आर्शीवाद से ही जीते। वे केवल बाल-बाल बचे। इस बार ऐसा नहीं होंना चाहिए। डोटासरा ने जनता से अपील की कि वे गांरटी देते हैं कि गांव के किसी का भी कोई काम बकाया नहीं रहेगा। हम करवाने की गांरटी देते हैं और आप वोट देंने की गांरटी दें।

Leave a Comment