महोबा, जागरण संवाददाता। Raksha Bandhan 2023: रक्षाबंधन पर मायके जाने की जिद कर रही पत्नी से पति का विवाद हो गया। नाराज होकर पति ने पहले पत्नी और सात साल की बच्ची को जहर खिला दिया, उसके बाद खुद भी खा लिया। तबीयत बिगड़ने पर स्वजन तीनों को लेकर महोबा जिला अस्पताल आए। यहां इलाज के बाद तीनों खतरे से बाहर हैं।

रक्षाबंधन पर मायके जाने की जि‍द कर रही थी पत्नी

मप्र के जिला छतरपुर ग्राम ज्योराहा निवासी 30 वर्षीय महेंद्र किसान है। पति ने बताया कि बुधवार को 26 वर्षीय पत्नी रुचि रक्षाबंधन पर्व पर अपने मायके ग्राम पठा जाने के लिए कह रही थी। ससुर श्रीराम ने बहू के मायके जाने को मना कर दिया। इसके बाद भी महिला जिद पकड़े थी कि उसे जाना ही है। बातचीत में पति और पत्नी के बीच विवाद बढ़ गया।

पत‍ि ने उठाया खौफनाक कदम

जब पत्नी किसी तरह से नहीं मान रही थी तो पति ने सुबह करीब दस बजे पत्नी और सात साल की पुत्री मानसी को चूहा मारने वाली दवा खिला दी और फिर स्वयं खा लिया। कुछ ही देर में तीनों की हालत बिगड़ने लगी।

डॉक्‍टर ने कहा- तीनों की हालत में सुधार

जानकारी पर स्वजन तीनों को लेकर जिला अस्पताल आए, जहां डॉ. जीतेंद्र सिंह ने उपचार किया। डॉ. ने बताया कि तीनों की हालत में सुधार हो रहा है। यदि कोई परेशानी नहीं हुई तो शाम तक सभी की छुट्टी कर दी जाएगी।

स्कूलों में उत्साह से मना रक्षाबंधन पर्व

चरखारी (महोबा): स्कूलों में रक्षाबंधन पर्व उत्साह के साथ मनाया गया। बहनों ने अपने सहपाठी भाइयों की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधा और मुंह मीठा कराया। भाइयों ने बहनों को उपहार दिए।

कस्बा के सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज सभागार में रक्षाबंधन का भव्य कार्यक्रम आयोजित किया गया ।जिसमें विद्यालय के भैया बहनों में आराध्य शुक्ला,अनुष्का यादव, निधि, रक्षा साहू, अनु तिवारी, सुकृति और प्रशांत यादव ने रक्षाबंधन के पावन पर्व पर अपने-अपने विचार व्यक्त किए।