Raksha Bandhan 2023: दिल्ली में दो दिन मनाया जा रहा भाई-बहनों के प्रेम का पर्व, तिथि को लेकर असमंजस में लोग

Advertisement

Raksha Bandhan 2023: दिल्ली में दो दिन मनाया जा रहा भाई-बहनों के प्रेम का पर्व, तिथि को लेकर असमंजस में लोग

प्रियंका कुमारी(संवाददाता)

भाई-बहनों के प्रेम के प्रतीक रक्षाबंधन पर्व को लेकर दिल्ली के लोगों में उत्साह है। रक्षाबंधन व मिठाई की खरीदारी से लेकर बहनों के श्रृंगार व मेहंदी को लेकर देर रात तक बाजार गुलजार रहे। हालांकि, रक्षाबंधन का पर्व बुधवार को है या बृहस्पतिवार को, इसे लेकर असमंजस का माहौल है।

कोई आज तो अधिकतरों बहनों ने कल भाई की कलाई पर राखी बांधने की तैयारी की है। बहनों द्वारा खरीदारी से चांदनी चौक, करोलबाग, कनाट प्लेस समेत अन्य बाजार गुलजार रहे। वहीं, कनॉट प्लेस स्थित हनुमान मंदिर के सामने बहने हथेली पर मेहंदी रचाती देखी गई। जबकि, बहनों को उपहार के लिए भाई उपहारों की खरीदारी करते दिखे। बहनों को स्मार्ट फोन से लेकर ज्वैलरी की भी खरीदारी की गई।

इस बार बच्चों को राखियों में कार्टून के किरदारों के साथ चंद्रयान भी खूब लुभा रहा है। इसी तरह कुछ बहनों ने भाई की कलाई पर बांधने के लिए लाखों रुपये की कीमती राखी भी बनवाई है। थोक बाजारों में रक्षाबंधन के पर्व पर बाजारों के बंद करने को लेकर भी संशय की स्थिति है। वैसे, अधिकतर बाजारों ने 31 अगस्त को इस अवसर पर बाजार बंद रखने की तैयारी की है।

सुंदरीकरण करने वाले कर्मियों को बांधी राखी

जी-20 शिखर सम्मेलन में सुंदरीकरण करने वाले कर्मियों के साथ एनडीएमसी सदस्य कुलजीत चहल की अध्यक्षता में स्कूली छात्राओं केसाथ रक्षाबंधन मनाया गया। विनय मार्ग स्थित नवयुग स्कूल की छात्राओं ने उद्यान विभाग के कर्मियो को राखी बांधकर सुंदरीकरण के लिए धन्यवाद दिया।

चहल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन से दिल्ली में सुंदरीकरण हुआ है। इसको करने का कार्य उद्यान विभाग समेत अनेक कर्मियों ने किया है। इन कर्मियों की दिन रात की मेहनत के चलते राजधानी अब नए रंग में दिख रही है। चारों तरफ हरियाली और फव्वारे नागरिकों का मन मोह रहे हैं। ऐसे में उनका उत्साहवर्धन स्कूली छात्राओं ने रक्षाबंधन करके मनाया, क्योंकि उन्होंने शहर को स्वच्छ और सुंदर बनाया है।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer