छगन भुजबल ने खोला राज-शरद पवार ने ही कहा था ‘दिल्ली जाइए, उनसे मंत्री पद मांगिए’

chhagan bhujbal - India TV Hindi

प्रियंका कुमारी(संवाददाता)

महाराष्ट्र: एनसीपी के दो गुटों में बंट जाने के बाद दोनों गुट के नेता एक-दूसरे पर आरोप लगाते नजर आ रहे हैं। कभी शरद पवार के अजीत पवार से नजदीकी की खबरें आ रही हैं तो कभी दोनों गुट एक-दूसरे पर जमकर हमला बोल रहे हैं। रविवार को बीड की सभा में एनसीपी अजीत पवार गुट के नेता छगन भुजबल ने शरद पवार पर बड़ी टिप्पणी कर दी। इस बयान के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में एक बार फिर उबाल आ सकता है। छगन भुजबल ने खुलासा किया, शरद पवार ने ही हमसे कहा था कि दिल्ली जाइए, उनसे मीटिंग कीजिए और मंत्री पद मांगिए।

भुजबल ने कहा-शरद पवार ने ही किया मार्गदर्शन

छगन भुजबल ने आगे कहा कि सत्ता में शामिल होने से पहले शरद पवार ने ही हमें इस बारे में मार्गदर्शन दिया था कि हमें बीजेपी से किन मुद्दों पर बात करनी चाहिए और किन मुद्दों पर स्थिति साफ कर लेनी चाहिए।

छगन भुजबल ने सवाल पूछने के अंदाज में कहा क‍ि हमें नहीं पता कि अब वे क्या कह रहे हैं। जो लोग शरद पवार के साथ हैं, वे भाषण देते हैं लेकिन उन्होंने बीजेपी के साथ जाने के लिए हस्ताक्षर किये हैं। एक वरिष्ठ नेता होने के नाते हमने उनसे बात की थी। 2014 के बाद से पिछले पांच-छह महीनों से मैंने किसको कहा है? क्या कहा है? अजित पवार को, प्रफुल्ल पटेल को, जयंत पाटिल को।

अब शरद पवार क्या कह रहे, पता नहीं

शरद पवार ने सबको बस यही कहा कि दिल्ली जाकर उनसे चर्चा करो। इतने मंत्री पद मांगो ओर कहो कि, इतने विधायक चाहिए, इतने सांसद चाहिए। जब उन्होंने ऐसा कहा तो हमने यही यही किया। इसीलिए अब क्या हुआ कि वे ऐसी बातें करते हैं, जैसे उन्होंने कुछ किया ही नहीं। नहीं मालूम कि वे ऐसा क्यों कर रहे हैं?

 

Leave a Comment

[democracy id="1"]