Bihar Teacher Exam: पहली पाली की परीक्षा खत्‍म होते ही छात्रों ने किया हंगामा, गड़बड़ी का आरोप लगा की यह मांग

Bihar Teacher Exam: पहली पाली की परीक्षा खत्‍म होते ही छात्रों ने किया हंगामा, गड़बड़ी का आरोप लगा की यह मांग

प्रियंका कुमारी(संवाददाता)

बिहार में गुरुवार से शिक्षक भर्ती की परीक्षाएं शुरू हो गई हैं। बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) की ओर से आयोजित शिक्षक भर्ती परीक्षा की पहली पाली में बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों की बायोमेट्रिक जांच नहीं ली गई। इससे नाराज छात्रों ने परीक्षा खत्म होने के बाद जमकर हंगामा किया।

यह मामला शेखपुरा नगर परिषद क्षेत्र के अभ्यास मध्य विद्यालय परीक्षा केंद्र और गया कॉलेज परीक्षा केंद्र का है। हंगामा कर रहे अभ्यर्थियों का कहना है कि बीएससी ने बायोमेट्रिक से हाजिरी लगाने की बात कही थी, लेकिन परीक्षा केंद्र पर दर्जनों छात्रों की बायोमेट्रिक से हाजिरी नहीं लगाई गई है। छात्रों ने बाद में प्रशासनिक पदाधिकारियों से भी इसकी शिकायत की।

हंगामा कर रहे छात्र अजय, अमन, कुंदन व राजीव ने आरोप लगाया कि परीक्षा के दौरान बीएससी के दिशा निर्देशों का पालन नहीं किया गया है।  बायोमेट्रिक से हाजिरी नहीं लगाई गई है।

छात्रों ने आशंका जताई कि परीक्षा में गड़बड़ी की जा रही है। उनके साथ कुछ गलत हो सकता है। बायोमेट्रिक नहीं लिए जाने से नाराज छात्रों ने पहली पाली की परीक्षा खत्म होने के बाद जमकर हंगामा किया। अधिकारियों को भी इसकी सूचना दी।

इस संबंध में पूछे जाने पर अभ्यास मध्य विद्यालय के प्रधानाध्यापक सह केंद्र अधीक्षक मुरारी प्रसाद ने बताया कि दो-तीन कमरे में परीक्षा के दौरान परीक्षार्थियों का बायोमेट्रिक नहीं लिया जा सका। तकनीकी खराबी की वजह से यह समस्या आई। ऐसे परीक्षार्थियों को चिन्हित करके उनकी लिस्ट बनाकर भेजी जाएगी।

क्या बोले अधिकारी?

जिला शिक्षा पदाधिकारी राजदेव राम का कहना है कि नेटवर्क समस्या के कारण बायोमेट्रिक से हाजिरी बनाने में असुविधा हुई है, लेकिन जो परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए हैं, वह सभी मान्य है।

उन्होंने कहा कि बीएससी से परीक्षा शुरू होने के पहले मैन्युअल हाजिरी भी परीक्षार्थी से बनवाने को कहा गया है। मैन्युअल हाजिरी भी मान्य है। इसलिए कोई चिंता की बात नहीं है। दूसरी पाली की परीक्षा के लिए परीक्षार्थी परीक्षा के लिए हाल में प्रवेश कर गए हैं।

Leave a Comment