Sultanpur : ‘मेरी प्रेमिका की बहन पर जबरिया डाल रहा था डोरे; इसलिए मैंने कर दी हत्या…बताया- कैसे ली जान?

Sultanpur : 'मेरी प्रेमिका की बहन पर जबरिया डाल रहा था डोरे; इसलिए मैंने कर दी हत्या...बताया- कैसे ली जान?

प्रियंका कुमारी(संवाददाता)

सफदर इमाम प्रेमिका की बहन पर जबरिया डोरे डाल रहा था, इसलिए उसकी हत्या कर दी। यह स्वीकारोक्ति युवा व्यवसायी की हत्या में गिरफ्तार मुख्य आरोपित ने की है। पुलिस ने घटना में शामिल तीन लोगों को गिरफ्तार किए जाने का दावा किया है, जबकि एक अन्य फरार है। अभियुक्तों के कब्जे से असलहे व कारतूस भी बरामद हुए हैं।

20 अगस्त को गोसाईंगंज के बरुई गांव के पास सुरौली निवासी सेवानिवृत्त दारोगा के बेटे सफदर इमाम की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसमें अज्ञात के खिलाफ प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज की गई थी। गोसाईंगंज थानाध्यक्ष आरवी सुमन को स्वाट टीम के साथ घटना के राजफाश की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। टीम ने जासापारा निवासी नीरज सिंह, इसी गांव के पंकज कुमार और बरुई के राज सिंह उर्फ राजा को गिरफ्तार किया है।

आरोपी बोला – जबरिया प्रेमजाल में फंसा रहा था

पुलिस अधीक्षक सोमेन बर्मा ने गुरुवार को कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में घटना के राजफाश की जानकारी दी। बताया कि पूछताछ के दौरान हत्यारोपित नीरज ने कुबूल किया कि उसकी प्रेमिका की सगी छोटी बहन को सफदर इमाम मोबाइल नंबर देकर जबरिया प्रेमजाल में फंसा रहा था, जबकि वह विरोध कर रही थी।

पीड़िता ने बड़ी बहन से यह हरकत बयां की। उसने सारी बात नीरज को बताई। तब उसने चार दोस्तों के साथ मिलकर सफदर के हत्या की योजना बना डाली।

घटना वाले दिन जासापारा गांव से बिजली का काम कर लौट रहे सफदर को रोक लिया। कहासुनी के दौरान उसने नीरज और राजा को एक- एक थप्पड़ जड़ दिए। इसी के कारण उसे गोली मार दी गई। एसपी ने बताया कि फरार एक आरोपित की तलाश की जा रही है। जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Comment