मथुरा में दिव्यांग और मूक बधिर बच्चे बना रहे खूबसूरत राखियां, बांके बिहारी और फौजियों को करेंगे समर्पित

children making rakhis- India TV Hindi

प्रियंका कुमारी(संवाददाता)

मथुरा: भाई बहन के प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन बेहद करीब है। इस दौरान बहनें भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधकर रक्षा का वचन लेती हैं। लेकिन जब यही रक्षा सूत्र दिव्यांगो द्वारा बांके बिहारी और सरहद पर तैनात फौजियों के लिए बना गया हो तो इसमें प्यार और आस्था और गहरी हो जाती है। दरअसल, मथुरा में दिव्यांग और मूक बधिर बच्चे राखियां बना रहे हैं और इनके द्वारा बनाई गईं राखियां भगवान बांके बिहारी और गिर्राज जी और सेना के जवानों को अर्पित की जाएंगी।

समाज की मुख्य धारा से जुड़ रहे दिव्यांग बच्चे

मथुरा स्थित दिव्यांगों के लिए कार्य करने वाली समाज सेवी संस्था कल्याण करोति के दिव्यांग और मुख बधिर बच्चे राखी बनाकर समाज की मुख्य धारा से जुड़ रहे हैं और ये दिव्यांग बच्चे इन राखियों को बांके बिहारी जी, गिर्राज महाराज और सरहद पर तैनात फौजियों के लिए समर्पित करेंगे। वीडियो में आप खुद देख सकते है कि किस प्रकार से दिव्यांग बच्चे रंग-बिरंगी राखियां बना रहे हैं। इन दिव्यांग बच्चों द्वारा बनाई गई राखियां मन को मोह रही हैं।

इन बच्चों को बना रहे आत्मनिर्भर 
वहीं इस समाज सेवी संस्था में सदस्य बृजेश शर्मा ने बताया कि कल्याण करोति में करीब 153 दिव्यांग और मूक बधिर बच्चे पढ़ते हैं। पढ़ाई के साथ-साथ वह इन बच्चों को वोकेशनल ट्रेनिंग भी देते हैं, जिससे यह बच्चे बाकी बच्चों की तरह समाज की मुख्य धारा से जुड़ सकें और आने वाले समय में आत्मनिर्भर बन सकें। उन्होंने बताया कि जब यह दिव्यांग बच्चे इस तरह की मेहनत करते हैं तो समाज को एक संदेश जाता है कि यह बच्चे भी बाकी बच्चों की तरह से कार्य कर सकते हैं और आत्मनिर्भर बन सकते हैं।

Leave a Comment