इस्लामाबाद, पीटीआई। पाकिस्तान ने जेल में बंद कश्मीरी अलगाववादी नेता यासीन मलिक की पत्नी मुशाल हुसैन मलिक को देश के नवनियुक्त कार्यवाहक प्रधानमंत्री अनवारुल हक काकर का विशेष सलाहकार नियुक्त किया है।

राष्ट्रपति  द्वारा राष्ट्रपति भवन ऐवान-ए-सद्र में 19 सदस्यीय कार्यवाहक मंत्रिमंडल को शपथ दिलाने के बाद गुरुवार देर रात जारी की गई प्रधानमंत्री के पांच विशेष सलाहकारों (SAPM) की सूची में उनका नाम शामिल किया गया।

मुशाल को बनाया गया विशेष सलाहकार

पाकिस्तानी नागरिक  को मानवाधिकार और महिला सशक्तिकरण पर कार्यवाहक प्रधानमंत्री काकर का विशेष सलाहकार नियुक्त किया गया था। एक विशेष सलाहकार का दर्जा एक जूनियर मंत्री से कम होता है, लेकिन वह प्रमुख प्रासंगिक मुद्दों पर प्रधानमंत्री को सहायता प्रदान करता है।

अन्य चार विशेष सलाहकारों में, जवाद सोहराब मलिक को विदेशी पाकिस्तानियों के लिए एसएपीएम नियुक्त किया गया है, वाइस एडमिरल (सेवानिवृत्त) इफ्तिखार राव को समुद्री मामलों पर सलाहकार, टीवी एंकर और लेखक वसीह शाह को पर्यटन पर, और सैयदा आरिफा जहरा को संघीय शिक्षा और व्यावसायिक प्रशिक्षण पर सलाहकार नियुक्त किया गया है।

2009 में यासीन ने मुशाल से की शादी

जम्मू और कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (JKLF) के प्रमुख यासीन ने 2009 में रावलपिंडी में पाकिस्तानी कलाकार मुशाल से शादी की। दोनों की मुलाकात तब हुई, जब यासीन 2005 में पाकिस्तान के दौरे पर था। मुशाल और उनकी बेटी इस्लामाबाद में रहती हैं। 1985 में जन्मे मुशाल ने लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से स्नातक की उपाधि प्राप्त की।

ट्रायल कोर्ट ने यासीन को सुनाई उम्रकैद की सजा

यासीन को मई में टेरर फंडिंग मामले में ट्रायल कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई थी। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने दिल्ली की तिहाड़ जेल में सजा काट रहे यासीन के लिए मौत की सजा की मांग करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।