Prabal Revolver: देश की पहली लंबी दूरी की रिवॉल्वर ‘प्रबल’ आज होगी लॉन्च, महिलाओं के मुफीद; पढ़ें खासियत

Advertisement

India Long Range Revolver Prabal To Be Launched On August 18 | Revolver  Prabal: देश की पहली लॉन्ग रेंज रिवॉल्वर 'प्रबल' 18 अगस्त को होगी लॉन्च,  जानिए क्या है खासियत

भूमि शर्मा (सवांददाता)

भारत की पहली लंबी दूरी की रिवॉल्वर प्रबल की आज लॉन्चिंग है। यह रिवाल्वर काकी चर्चा में है जिसकी वजह है इसकी कई खासियतें। इस रिवॉल्वर की सबसे बड़ी खासियत (Prabal Revolver Feature) यह है कि इसका वजन काफी कम है। यह हल्की 32 बोर की रिवॉल्वर महिलाओं के लिए मुफीद इसलिए मानी जा रही है क्योंकि ये बिना कारतूस के केवल 700 ग्राम की है।

Advertisement

भारत की पहली लंबी दूरी की रिवॉल्वर ‘प्रबल’ आज लॉन्च होने जा रही है। इस रिवाल्वर की कई खासियत है। पहली तो यह कि ये उत्तर प्रदेश के कानपुर में सरकारी स्वामित्व वाली कंपनी एडवांस्ड वेपंस एंड इक्विपमेंट इंडिया लिमिटेड (AWEIL) द्वारा निर्मित रिवॉल्वर है। दूसरी, ये रिवॉल्वर महिलाओं के भी काफी मुफीद है।

हल्का वजन है खासियत

इस रिवॉल्वर की सबसे बड़ी खासियत (Prabal Revolver Feature) यह है कि इसका वजन काफी कम है। यह हल्की 32 बोर रिवॉल्वर महिलाओं के लिए मुफीद इसलिए मानी जा रही है, क्योंकि ये बिना कारतूस के केवल 700 ग्राम की है, जिसे कोई भी आराम से अपने साथ रख सकता है।

ढाई गुना ज्यादा मारक क्षमता

रिवाल्वर की मारक क्षमता भी देश की सभी रिवॉल्वर से सबसे ज्यादा है। ये 50 मीटर तक अपने लक्ष्य को भेद सकती है, जो बाजार में उपलब्ध सभी रिवॉल्वर की तुलना में ढाई गुना है। फिलहाल, देश की कोई भी रिवॉल्वर 20 मीटर से ज्यादा का लक्ष्य नहीं भेदती है। इसके अलावा, प्रबल भारत में निर्मित होने वाली पहली रिवॉल्वर है, जिसमें साइड स्विंग सिलेंडर है।

महिलाओं के लिए इसलिए भी है काफी खास

  • प्रबल रिवॉल्वर का वजन केवल 700 ग्राम (कारतूस के बिना) है और इसकी बैरल की लंबाई 76 मिमी है, जबकि इसकी कुल लंबाई 177.6 मिमी है।
  • इसका ट्रिगर पुल भी काफी आसान है।
  • ट्रिगर पुल आसान होने से ये इसे उन महिलाओं के लिए एक आसान विकल्प बनाता है, जो इसे अपने हैंडबैग में लेजाना चाहती हैं और अपनी सुरक्षा के लिए इसका उपयोग कर सकती हैं।

साइड स्विंग सिलेंडर मौजूद

AWEIL के निदेशक ए.के. मौर्य की माने तो प्रबल रिवॉल्वर वजन में हल्का है और इसमें साइड स्विंग सिलेंडर भी है। रिवॉल्वर के पहले संस्करण में, कारतूस डालने के लिए बन्दूक को मोड़ना पड़ता था, लेकिन अब वो भी नहीं करना होगा।

निर्भया कांड के बाद महिलाओं के लिए आई थी खास रिवॉल्वर

दिल्ली के निर्भया दुष्कर्म मामले के बाद महिलाओं के लिए खास तौर पर एक रिवॉल्वर बनाई गई थी। 18 मार्च 2014 को कानपुर में बनी इस रिवॉल्वर का नाम निर्भीक रखा गया था। इसकी खासियत ये है कि ये सिर्फ 500 ग्राम की है। हालांकि, इसकी कीमत 1 लाख से ज्यादा की थी।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer