कांग्रेस नेता जयराम रमेश का बड़ा बयान, विपक्षी दलों की असली बैठक कल

Advertisement

विपक्ष को तोड़ना चाहती है भाजपा, इसलिए कर रही ऐसा, कांग्रेस ने लगाया आरोप ।  Opposition parties meeting will be held in Bengaluru tomorrow Congress said  BJP wants to break the opposition -

प्रियंका कुमारी(संवाददाता)

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर विपक्षी दलों की बेंगलुरु में होने वाली बैठक में कई बड़े नेता नहीं आने वाले हैं। इस मामले पर कांग्रेस पार्टी द्वारा बयान जारी किया गया है। कांग्रेस पार्टी ने कहा है कि 23 जून को पटना में आयोजित विपक्षी दलों की बैठक से पहले वो जीत के प्रति आश्वस्त थे। लेकिन हमारी एकजुटता के बाद वो भी मीटिंग करने पर मजबूर हो गए हैं। ये हमारी जीत है। वहीं दूसरी बैठक का आयोजन 18 जुलाई की सुबह है। इस बैठक में 26 दल भाग लेंगे।  इस मामले पर कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने कहा कि ये कहा जा रहा है कि कुछ वरिष्ठ नेता आज नहीं आ रहे हैं। मैं इसका खंडन करना चाहता हूं। बैठक कल होने वाली है। आज सिर्फ CM का भोज है। असली मीटिंग कल 11 बजे से शुरू होगी।

Advertisement

क्या बोले केसी वेणुगोपाल 

इस मामले पर बोलते हुए केसी वेणुगोपाल ने कहा कि मणिपुर 75 दिनों से जल रहा है। एक ठोस कदम नहीं लिया गया। PM चुप हैं देश उनके जवाब का इंतजार कर रहा है। प्रधानमंत्री ने अब तक शांति की अपील नहीं की है। आम आदमी परेशान है। सरकार उनकी परेशानी को सुनने के लिए कुछ नहीं कर रही है। हम सत्ता हासिल करने नहीं बल्कि जनता की आवाज उठाने, लोकतंत्र को बचाने के लिए एकजुट हुए हैं। 26 दल एक साथ मिलकर आगे बढ़ेंगे आम जनता की समस्या का समाधान करेंगे और इस तानाशाही सरकार का एकजुट होकर विरोध करेंगे। संसद में हम सबकी भूमिका क्या होगी उस पर चर्चा होगी।

भाजपा पार्टी तोड़ने की कर रही कोशिश

तमिलनाडु के एक मंत्री के घर पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने छापेमारी शुरू की है। इस मामले पर जयराम रमेश ने कहा कि विपक्ष की आवाज को दबाने के लिए एजेंसियों का इस्तेमाल हो रहा है। राहुल गांधी को संसद से बाहर करना, महाराष्ट्र में जो हुआ वो इसकी मिसाल है। तमिलनाडु के एक मंत्री पर ED के खिलाफ छापेमारी हो रही है। हम लड़ते रहेंगे ED और CBI राज को खत्म करेंगे। पटना से बेंगलुरू में पार्टी की संख्या बढ़ी। अगली बैठक में और बढ़ेगी। हमारी एकता बनी रहेगी

जेडीएस व अन्य दलों को लेकर जयराम रमेश ने कहा कि भारतीय राजनीति में त्रिशंकु के लिए जगह नहीं है, उन्हें अपना स्टैंड साफ  करना होगा। वो लोकतंत्र की रक्षा करने वालों के साथ हैं या फिर रोज लोकतंत्र का अपमान करने वालों के साथ हैं, ये उन्हें तय करना होगा। केसी वेणुगोपाल ने बैठक से पहले कहा कि भविष्य के मुद्दे क्या होंगे इस पर कल चर्चा होगी। अगली एक दो बैठक में सभी मुद्दों को सुलझा दिया जाएगा। आप चिंता मत करो हम सब फैसला करेंगे (नाम को लेकर)। ये कांग्रेस का फैसला नहीं है सभी को साथ लेकर फैसला लेना होगा। गठबंधन को लेकर समय लगेगा, जल्द ही इस पर चर्चा होगी।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer