Guru Purnima 2023: गुरु दोष से पाना चाहते हैं मुक्ति, गुरु पूर्णिमा के दिन जरूर करें ये उपाय

Advertisement

Guru Purnima 2023: गुरु दोष से पाना चाहते हैं मुक्ति, गुरु पूर्णिमा के दिन जरूर करें ये उपाय

पिंकी कुमारी(संवाददाता)

Guru Purnima 2023 इस वर्ष 03 जुलाई 2023 सोमवार के दिन गुरु पूर्णिमा पर्व मनाया जाएगा। हिन्दू धर्म में इस पर्व का विशेष महत्व है। इस विशेष दिन पर गुरु पूजन और उनसे आशीर्वाद लेने का विधान है। मान्यता है कि गुरु पूर्णिमा के दिन किए गए कुछ उपायों से व्यक्ति के कुंडली में गुरु मजबूत होते हैं और उन्हें गुरु दोष के प्रभाव से मुक्ति मिल जाती है।

Advertisement

हिंदू पंचांग के अनुसार, 03 जुलाई 2023, सोमवार के दिन गुरु पूर्णिमा पर्व मनाया जाएगा। धार्मिक दृष्टिकोण से इस पर्व को बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। इस दिन शिष्य अपने गुरुजनों की पूजा-अर्चना करते हैं और उनसे बुद्धि व ज्ञान प्राप्ति का आशीर्वाद लेते हैं। इसके साथ गुरु पूर्णिमा के दिन गुरु दोष से मुक्ति के लिए भी कुछ उपाय ज्योतिष शास्त्र में बताए गए हैं, जिन्हें करने से व्यक्ति को विशेष लाभ मिलता है। आइए जानते हैं कुछ ऐसे उपाय, जिनसे जातकों को गुरु दोष से मिलता छुटकारा।

गुरु दोष से मुक्ति के लिए गुरु पूर्णिमा के दिन करें ये कार्य (Guru Purnima 2023 Upay)

  • गुरु पूर्णिमा के दिन व्यक्ति को घर पर सत्यनारायण भगवान की कथा अवश्य सुननी चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं और व्यक्ति के जीवन में आ रही आर्थिक समस्याएं दूर हो जाती हैं।
  • गुरु दोष से मुक्ति के लिए व्यक्ति को गुरु पूर्णिमा के दिन बृहस्पति देव की पूजा जरूर करनी चाहिए। इस दौरान पीले रंग की वस्तु बृहस्पति देव को अर्पित करें और ‘ॐ बृ बृहस्पतये नमः’ मंत्र का कम से कम 108 बार जाप करें। ऐसा करने से कुंडली में गुरु दोष से पड़ रहे नकारात्मक प्रभाव दूर हो जाते हैं।
  • गुरु पूर्णिमा के दिन गुरु ग्रह के दुष्प्रभाव से बचने के लिए ‘ऊँ ह्रीं ह्रीं श्रीं श्रीं लक्ष्मी वासुदेवाय नम:’ इस मंत्र का जाप कम से कम एक माला जरूर करें। ऐसा करने से न केवल छात्र में पढ़ाई के लिए इच्छा शक्ति जागृत होती है। बल्कि, शिक्षा के क्षेत्र में आ रही रुकावटें भी दूर हो जाती है।
  • ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि जिन जातकों की कुंडली में गुरु नीच स्थिति में होते हैं, उन्हें संतान प्राप्ति में समस्याएं आती हैं। इसलिए गुरु पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु को केसर, पीला चंदन, पीले वस्त्र व फल अर्पित करें। साथ किसी जरूरतमंद को गुड़ का दान करें। ऐसा करने से जल्द सफलता मिलती है।

गुरु पूर्णिमा 2023 शुभ मुहूर्त (Guru Purnima 2023 Shubh Muhurat)

वैदिक पंचांग के अनुसार, आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि का शुभारंभ 02 जुलाई को रात्रि 08:21 पर होगा और इस तिथि का समापन 03 जुलाई को शाम 05:08 पर हो जाएगा। ऐसे में गुरु पूर्णिमा पर्व 03 जुलाई 2023, सोमवार के दिन रखा जाएगा। इसके साथ-साथ इस दिन ब्रह्म और इंद्र योग का निर्माण हो रहा है। इसकी गणना ज्योतिष शास्त्र में सर्वश्रेष्ठ समय की श्रेणी में किया गया है। बता दें कि ब्रह्म योग दोपहर 03:35 तक रहेगा और इसके बाद इंद्र योग शुरू हो जाएगा।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer