QS World University Ranking में 45 भारतीय संस्थानों ने बनाई जगह, केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने जताई खुशी

Advertisement

QS World University Ranking में 45 भारतीय संस्थानों ने बनाई जगह, केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने जताई खुशी

पिंकी कुमारी(संवाददाता)

QS Rankings 2024 क्यूएस रैंकिंग 2023 में पहले स्थान पर एक बार फिर से अमेरिका की मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) ने पहली स्थान हासिल किया है। यह इस साल लगातार बारहवीं बार हुआ है जब क्वाक्वेरेली साइमंड्स (क्यूएस) वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में फर्स्ट रैंक हासिल की है। वहीं आईआईटी बॉम्बे ने टॉप 150 रैंकिंग में जगह बनाई है। आईआईटी बॉम्बे की रैंकिंग में पहले से सुधार हुआ है।

Advertisement

एजुकेशन डेस्क। QS Rankings 2024: क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग हाल ही में जारी की गई है। इस लिस्ट में आईआईटी बॉम्बे को 150वां स्थान मिला है। IIT बॉम्बे की रैंकिंग में पिछले सालों की तुलना में सुधार हुआ है। यह 177वें नंबर से सीधे अब 150वें नंबर पर आ गया है। वहीं, इस सूची में 45 संस्थानों को जगह मिली है। केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने खुशी जताई है। इस संबंध में उन्होंने एक ट्वीट भी किया। उन्होंने लिखा कि, ‘यह हम सभी के लिए गर्व का क्षण है कि 45 भारतीय विश्वविद्यालयों ने क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में जगह बनाई है। इसके साथ ही, यह  साल 2014 के बाद से 275% की वृद्धि को दर्शाता है।

QS Rankings 2024: पिछले साल आईआईटी बॉम्बे को मिली थी 172वीं रैंक  

पिछले साल जारी की गई वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में आइआइटी बॉम्बे को 172वीं रैंक मिली थी। वहीं, इस साल आईआईटी दिल्ली की रैंकिंग पहले के मुकाबले काफी बड़ा फेरबदल देखने को मिला। इस लिस्ट में आईआईटी दिल्ली 174वें स्थान से 197वें स्थान पर पहुंच गया है। वहीं, आईआईटी मद्रास 250 से 285 पर आ गया है। आईआईटी कानपुर की भी रैंकिंग पिछले साल के मुकाबले कमजोर हुई है। आईआईटी कानपुर वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में 264 स्थान से 278 पर आ गया है। वहीं, इस साल जिन संस्थानों की रैंकिंग पहले से बेहतर हुई है, दिल्ली यूनिवर्सिटी उनमे से एक हैं। डीयू पहले इस सूची में 521वें संस्थान पर था, जो इस साल आगे बढ़कर 407 पर पहुंच गया है।

 

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer