‘दिल्ली में रोज हो रही घटनाएं, मणिपुर हिंसा में मरे हजारों लोग’, कानून व्यवस्था को लेकर भिड़े AAP और BJP

दिल्ली में रोज हो रही घटनाएं मणिपुर हिंसा में मरे हजारों लोग कानून व्यवस्था  को लेकर भिड़े AAP और BJP - Crime graph of Delhi increased rapidly, AAP and  BJP clash over

प्रिया कश्यप(सवांददाता)

दिल्ली मणिपुर और पंजाब के कानून व्यवस्था को लेकर आम आदमी पार्टी और भाजपा के बीच जुबानी जंग छिड़ गई। केन्द्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि पंजाब सरकार राज्य में कानून-व्यवस्था बनाए रखने में विफल रही है। इसके जवाब में आप सांसद राघव चड्ढा ने दिल्ली में हो रही हत्याओं और मणिपुर हिंसा का जिक्र करते हुए पलटवार किया।

पंजाब, दिल्ली और मणिपुर के कानून व्यवस्था को लेकर भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच वार-पलटवार होते देखा गया। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पंजाब की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए, तो उसके जवाब में आम आदमी पार्टी के नेता राघव चड्ढा ने दिल्ली और मणिपुर के हालातों को जिक्र करते हुए भाजपा सरकार पर निशाना साधा है।

केन्द्रीय रक्षा मंत्री के तर्क पर दिया जवाब

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को चंडीगढ़ के एक समारोह में कहा था, “पंजाब सरकार कानून व्यवस्था बनाए रखने में विफल रही। कानून-व्यवस्था संभालने की पहल करना सरकार का प्रमुख काम है, लेकिन यह सरकार विफल रही।”

इसके जवाब में आप सांसद राघव चड्ढा ने कहा कि कानून-व्यवस्था की स्थिति में काफी बदलाव देखा गया है, जब से सीमावर्ती राज्यों में भाजपा की सरकार कायम हुई है। आप सांसद ने कहा, “मुझे लगता है कि राजनाथ सिंह को पंजाब के बारे में गलत जानकारी मिली है। पंजाब में आप-भगवंत मान सरकार के तहत कानून-व्यवस्था की स्थिति में सुधार हुआ है।” उन्होंने कहा, “पिछले कुछ दशकों की तुलना में पंजाब में कानून-व्यवस्था की स्थिति काफी बेहतर है।”

मणिपुर की स्थिति को लेकर कसा तंज

आप नेता ने केंद्र को भाजपा शासित राज्य मणिपुर में हिंसा के बारे में याद दिलाते हुए तंज कसा। उन्होंने कहा, “मैं रक्षा मंत्री से अनुरोध करता हूं कि मणिपुर जल रहा है, लाखों लोग बेघर हैं और हजारों लोग मारे गए हैं। इसलिए अन्य राज्यों की ओर इशारा करने से पहले इस हिंसा की जिम्मेदारी लें।”

दिल्ली में हुई घटनाओं का किया जिक्र

सांसद राघव चड्ढा ने दिल्ली में हाल ही में हुई हत्याओं का जिक्र करते हुए कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में अपराध का ग्राफ बढ़ रहा है। उन्होंने केंद्रीय मंत्री पर निशाना साधते हुए कहा, “दिल्ली में कानून-व्यवस्था और पुलिस केंद्र सरकार के अधिकार क्षेत्र में आती है। यहां हर दिन हत्या, दुष्कर्म और डकैती होती हैं। दिल्ली में अपराध का ग्राफ बढ़ रहा है।”

केंद्र के अधिकार क्षेत्र में आती है दिल्ली की कानून-व्यवस्था

आप सांसद ने तर्क दिया, “भाजपा के अधिकार क्षेत्र में आने वाले दिल्ली और मणिपुर दोनों में कानून और व्यवस्था की स्थिति खराब है।” दिल्ली में बिगड़ती कानून-व्यवस्था की स्थिति को लेकर भाजपा और आप के नेता एक तरह से जुबानी जंग में लगे हुए हैं। दिल्ली पुलिस केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधिकार क्षेत्र में आती है।

 

Leave a Comment