Russia-Ukraine War Live: रूस में पुतिन के खिलाफ तख्तापलट का डर, सड़कों पर उतरे वैगनर ग्रुप के लड़ाके

पुतिन के भरोसेमंद वैगनर ग्रुप का रूस के खिलाफ विद्रोह, मॉस्को पर कब्जा करने  के लिए बढ़ रहे हैं 30 हजार लड़ाके | russia private Army Wagner Group  revolts against Russia 30

प्रिया कश्यप(सवांददाता)

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर की मुश्किलें बढ़ गई हैं। वैगनर ग्रुप के चीफ येवगेनी प्रिगोझिन ने पुतिन को सत्ता से उखाड़ फेंकने की धमकी दी है। वैगनर ग्रुप के लड़ाके राजधानी मॉस्को की तरफ बढ़ रहे हैं। उन्हें रोकने के लिए रूसी सेना तैनात की गई है। प्रिगोझिन की धमकी के बाद रूसी रक्षा मंत्रालय ने उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया है।

यूक्रेन के साथ जंग लड़ी रहे रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के खिलाफ बगावत की खबर है। वैगनर ग्रुप ने पुतिन के खिलाफ तख्तापलट का एलान किया है। वैगनर ग्रुप की सेना राजधानी मॉस्को की तरफ बढ़ रही है।

इन लड़ाकों को रोकने के लिए रूसी सेना ने सड़कों पर टैंक उतार दिए हैं। वैगनर ग्रुप के चीफ येवगेनी प्रिगोझिन ने पुतिन को सत्ता से उखाड़ फेंकने की धमकी दी है। रक्षा मंत्रालय ने प्रिगोझिन के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया है। वैगनर ग्रुप को पुतिन की प्राइवेट आर्मी कहा जाता था।

वैगनर समूह के नियंत्रण में सभी सैन्य स्थल

प्रिगोझिन ने टेलीग्राम पर वीडियो संदेश जारी कर कहा कि वह और उनके लोग रोस्तोव-ऑन-डॉन में दक्षिणी जिला सैन्य मुख्यालय में हैं। सभी सैन्य स्थल वैगनर समूह के नियंत्रण में हैं। उन्होंने एलान किया है कि जब तक कि रक्षा प्रमुख शोइगु और गेरासिमोव उनके पास नहीं आते, तब तक उनके लोग रोस्तोव-ऑन-डॉन की नाकेबंदी करेंगे और मॉस्को की ओर जाएंगे।

येवगेनी प्रिगोझिन ने कहा- नहीं आएगी कोई बाधा

वैगनर ग्रुप के मुखिया प्रिगोझिन ने कहा है कि इससे यूक्रेन में रूस द्वारा विशेष सैन्य अभियान चलाने में कोई बाधा नहीं आएगी।

लंबे समय से चल रहा गतिरोध चरम पर पहुंचा

Wagner Group Russia: TASS न्यूज एजेंसी ने कहा कि जैसे ही येवगेनी प्रिगोझिन और सैन्य शीर्ष अधिकारियों के बीच लंबे समय से चल रहा गतिरोध चरम पर पहुंच गया। रूस की एफएसबी सुरक्षा सेवा ने प्रिगोझिन के खिलाफ एक आपराधिक मामला शुरू कर दिया है।

व्लादिमीर पुतिन को सता रहा तख्तापलट का डर

Wagner Group Russia: तख्तापलट के डर से पुतिन ने रूसी राष्ट्रपति कार्यालय क्रेमलिन की सुरक्षा कड़ी करने के लिए मॉस्को में टैंकों की तैनाती करने के आदेश जारी किए है। पुतिन को डर सता रहा है कि उनकी प्राइवेट मिलिशिया वैगनर ग्रुप उन्हें सत्ता से उखाड़ फेंकने के लिए तख्तापलट करने की कोशिश कर सकती है।

Leave a Comment