GDP आंकड़ों ने सरकार को दी राहत, मार्च तिमाही में 6.1% रही ग्रोथ, तरक्की के मामले चीन को भी पछाड़ा

सरकार आज जारी करेगी GDP के आंकड़े, इन मायनों में देश के लिए होगा अहम |  Government will release GDP figures today | TV9 Bharatvarsh

प्रियंका कुमारी(संवाददाता)

आर्थिक मंदी और वैश्विक चुनौतियों के बीच देश के जीडीपी ग्रोथ के आंकड़े आ गए हैं। देश की तरक्की की दर उम्मीद से बेहतर रही है। देश की आर्थिक वृद्धि दर बीते वित्त वर्ष 2022-23 की चौथी तिमाही में 6.1 प्रतिशत रही है। इसके साथ, पूरे वित्त वर्ष के दौरान जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) वृद्धि दर 7.2 प्रतिशत पर पहुंच गई है। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, वित्त वर्ष 2022-23 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर 4.5 प्रतिशत थी। जीडीपी वृद्धि दर 2021-22 की जनवरी-मार्च तिमाही में चार प्रतिशत रही थी।आंकड़ों के अनुसार, पूरे वित्त वर्ष 2022-23 में आर्थिक वृद्धि दर 7.2 प्रतिशत रही। इससे पिछले वित्त वर्ष 2021-22 में यह 9.1 प्रतिशत थी। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने दूसरे अग्रिम अनुमान में देश की वृद्धि दर सात प्रतिशत रहने की संभावना जतायी थी। सकल घरेलू उत्पाद देश की सीमा के भीतर उत्पादित वस्तुओं और सेवाओं के कुल मूल्य को बताता है। चीन की आर्थिक वृद्धि दर 2023 की पहली तिमाही में 4.5 प्रतिशत रही थी।

Leave a Comment

[democracy id="1"]