Earthquake In Afghanistan: अफगानिस्तान के फैजाबाद में आया भूकंप, 4.2 रही तीव्रता

Earthquake In Afghanistan: अफगानिस्तान के  फैजाबाद में आया भूकंप, 4.2 रही  तीव्रता - Earthquake In Afghanistan 4 point 2 magnitude earthquake hits  Afghanistans Fayzabad today

Earthquake In Afghanistan अफगानिस्तान के फैजाबाद से 79 किमी दक्षिण-पूर्व में रविवार सुबह 904 बजे 4.2 तीव्रता का भूकंप आया। इसकी जानकारी नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (एनसीएस) ने दी है। भूकंप 120 किलोमीटर की गहराई में 36.44 के अक्षांश और 70.89 के देशांतर पर आया।

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

काबुल (अफगानिस्तान), एजेंसी। Earthquake In Afghanistan: अफगानिस्तान के फैजाबाद से 79 किमी दक्षिण-पूर्व में रविवार सुबह 9:04 बजे 4.2 तीव्रता का भूकंप आया। इसकी जानकारी नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (एनसीएस) ने दी है।

NCS ने रविवार को ट्वीट कर जानकारी दी कि 22 जनवरी को 4.2 तीव्रता का भूकंप आया। जिसका समय 09:04:44 IST, अक्षांश: 36.44, लंबाई: 70.89, गहराई: 120 किमी, स्थान: 79 किमी एसएसई फैजाबाद, अफगानिस्तान था।

भूकंप 120 किलोमीटर की गहराई में, 36.44 के अक्षांश और 70.89 के देशांतर पर आया।

भारत में स्थित उत्तराखंड में भी आया भूकंप

रविवार सुबह उत्‍तराखंड के सीमांत जिले पिथौरागढ़ की धरती भूकंप के झटकों से हिल गई। बता दें कि यहां सुबह 8:58 बजे मुनस्यारी और तेजम तहसील क्षेत्र के तल्ला जोहार में रिक्टर पैमाने पर 3.8 मैग्नीट्यूट तीव्रता का भूकंप का झटका महसूस किया गया।

आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार भूकंप का केंद्र पिथौरागढ़ जिले के ही रामगंगा नदी किनारे रुइनाथल और उपराडा पाठक के निकट था। इसकी गहराई दस किमी थी। किसी तरह के नुकसान की सूचना नहीं है।

भूकंप आने से पहले क्या करें

  • छत तथा नींव के पलस्तर में पड़ी दरारों की मरम्मत कराएं। संरचनात्मक कमी का संकेत मिले तो विषेशज्ञ की सलाह लें।
  • पंखे, झूमर व सीलिंग में लगी लाइटों को सही तरह से टांगें।
  • भवन निर्माण मानक का पालन करें।
  • दीवारों पर सेल्फ को ठीक तरह से लगाएं।
  • भारी वस्तुओं को नीचे के सेल्फ में रखें।
  • तस्वीर, शीशे के सामान व अन्य भारी वस्तुओं को बिस्तर और सोफा व बैठने वाले अन्य स्थानों से दूर रखें।
  • भूकंप के समय आग लगने से बचाव के लिए खराब बिजली की तारों तथा लीक करने वाले गैस कनेक्शन की मरम्मत कराएं।
  • घर के अंदर तथा बाहर सुरक्षित स्थानों को पहचान कर रखें। जैसे टेबल, बेड, दीवार के साथ वाले स्थान आदि।
  • अस्पताल, डाक्टर, पुलिस जैसे आपातकालीन टेलीफोन नंबर याद रखें। -स्वयं तथा परिवार के सदस्यों को भूकंप के बारे में जानकारी दें।

Leave a Comment