फिलहाल जंतर-मंतर से नहीं हटेंगे पहलवान, कहा-‘हम आत्मसम्मान बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं’

Delhi News: पहलवान फिलहाल जंतर-मंतर से नहीं हटेंगे, कहा-'हम आत्मसम्मान बचाने  की लड़ाई लड़ रहे हैं'

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

 दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना दे रहे पहलवान फिलहाल वहां से हटने को तैयार नहीं है। पहलवानों की मांग है कि जबतक कुश्ती फेडरेशन के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर कार्रवाई नहीं होती है तबतक वे जंतर-मंतर से नहीं हटेंगे। विनेश फोगाट ने कहा कि 5 से 6 लड़कियां सामने आ चुकी हैं जिनके साथ यौन शोषण किया गया। विनेश ने कहा कि इस्तीफा तो हम लेकर ही रहेंगे उन्हें जेल में भी डलवाएंगे। वहीं बजरंग पुनिया ने कहा कि हमारी मांग है कि कुश्ती फेडरेशन को भंग किया जाए। इसमें बैठे लोग बृजभूषण सिंह के ही आदमी हैं।

विनेश फोगाट ने कहा कि हर तरफ उनके आदमी बैठे हुए हैं। हमें जान का भी डर सता रहा है। हम आपने आत्मसम्मान को बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। हमारे पास कई जगह फोन आए कि दीदी तुम इस लड़ाई को आगे लेकर जाओ। 5-6 लड़कियां सामने आ चुकी हैं जिनका यौन शोषण किया गया है। लेकिन हम उन्हें सामने नहीं लाना चाहते हैं। अगर हमें मजबूर किया गया तो जरूरत पड़ने पर वे सामने आएंगी। फिलहाल हमारी मांग है कि कुश्ती महासंघ को भंग किया जाए।

विनेश ने कहा-‘अगर  हमें  मजबूर किया गया तो देश की ये बेटियां सामने आकर बताएंगी कि उनके साथ क्या हुआ, ये कुश्ती की बेटियां नही हैं, देश की बेटियां है। कुश्ती की हक के लिए हम लड़ाई कर रहे हैं।’पहलवानों ने कहा कि सरकार की तरफ से हमें अभी तक कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। हमारी मांग है कि बृजभूषण सिंह तुरंत अपना पद छोड़ें। कुश्ती महासंघ को सरकार अपने नियंत्रण में ले। कुश्ती महासंघ में बैठे हुए ज्यादातर उन्हीं के लोग हैं। विनेश फोगाट ने कहा कि बृजभूषण सिंह के कारण यूपी की लड़कियों ने कुश्ती छोड़ दी। बजरंग पूनिया ने कहा कि सरकार के साथ हमारी कोई लड़ाई नहीं है। जबतक अध्यक्ष पद से बृजभूषण सिंह को हटाया नहीं जाता है तबतक हम कुश्ती नहीं लड़ेंगे।

 

Leave a Comment