दिल्ली महिला आयोग प्रमुख स्वाति मालीवाल को कार ने घसीटा:नशे में ड्राइवर ने बदतमीजी की; मालीवाल बोलीं- अंजलि जैसा हश्र होने वाला था

स्वाति ने कहा कि कल भगवान ने मुझे बचाया। लेकिन अगर दिल्ली  महिला आयोग की अध्यक्ष सुरक्षित नहीं है, तो आम जनता कैसे सुरक्षित महसूस करेगी?

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल को नशे में धुत एक कार ड्राइवर ने 15 मीटर तक घसीटा। यह घटना बुधवार देर रात एम्स हॉस्पिटल के पास की है, जब स्वाति दिल्ली की सड़कों पर रियलिटी चेक करने निकली थीं। मामले में पुलिस ने आरोपी हरीश चंद्र को अरेस्ट कर लिया है। इस घटना को लेकर स्वाति ने कहा कि उनके साथ अंजलि जैसा हादसा होने वाला था। उन्हें बस भगवान ने बचा लिया।

स्वाति सड़कों पर रियलिटी चेक करने निकलीं, तभी हुई घटना
स्वाति ने न्यूज एजेंसी को बताया कि जब वे दिल्ली की सड़कों पर महिला सुरक्षा के हालात का जायजा ले रही थी, तो नशे में धुत एक कार ड्राइवर उनके पास आया और अपनी कार में उनसे बैठने की जिद करने लगा। जब स्वाति ने मना कर दिया तो वह कार लेकर आगे चला गया, लेकिन 10 मिनट बाद फिर यू-टर्न लेकर आया और बगल में चलने लगा।

इसके बाद वह उनके साथ छेड़छाड़ करने लगा, गंदे इशारे करने लगा। जब स्वाति उसे पकड़ने के लिए आगे बढ़ीं तो उसने गाड़ी के शीशे बंद कर दिए। इस दौरान स्वाति का हाथ शीशे में फंसा रह गया, लेकिन आरोपी रुका नहीं। वह करीब 15 मीटर तक स्वाति को घसीटता रहा।

स्वाति ने 19 जनवरी को ट्वीट कर अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी।
स्वाति ने 19 जनवरी को ट्वीट कर अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी।

मेरा हश्र अंजलि जैसा होने वाला था- स्वाति
स्वाति ने कहा कि मेरी टीम के लोग कुछ दूरी पर मेरा इंतजार कर रहे थे। जब उन्होंने मुझे कार से घिसटते हुए देखा तो एक टीम मेंबर जोर से चिल्लाया। उसकी आवाज सुनकर आरोपी ने मुझे छोड़ा। अगर वो मुझे नहीं छोड़ता तो मेरे साथ वैसी ही घटना होती जैसी अंजलि के साथ हुई थी।

स्वाति ने दिल्ली के लॉ इन ऑर्डर पर सवाल उठाते हुए कहा कि भगवान ने मेरी जान बचाई है। अगर दिल्ली में महिला आयोग की अध्यक्ष सुरक्षित नहीं, तो फिर आम जनता का क्या होगा।

DCP बोले- आरोपी को अरेस्ट करके पूछताछ की जा रही
साउथ दिल्ली के DCP चंदन सिंह ने मामले में कहा कि स्वाति ने हौज खास थाने में घटना की शिकायत की थी। मामले की जांच की गई तो आरोपी की पहचान 47 साल के हरीश चंद्र के रूप में हुई। उसे अरेस्ट कर लिया गया है और आगे की जांच की जा रही है।

आरोपी हरीश चंद्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। तस्वीर कोटला मुबारकबाद पुलिस स्टेशन की है।
आरोपी हरीश चंद्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। तस्वीर कोटला मुबारकबाद पुलिस स्टेशन की है।
आरोपी ने इसी कार से स्वाति मालीवाल को 15 मीटर तक घसीटा था। पुलिस ने कार को जब्त कर लिया है।
आरोपी ने इसी कार से स्वाति मालीवाल को 15 मीटर तक घसीटा था। पुलिस ने कार को जब्त कर लिया है।

स्वाति ने अंजलि केस में CBI जांच की मांग की थी
31 दिसंबर 2022 की रात दिल्ली में अंजलि को लगभग 12 किलोमीटर तक कार से घसीटा गया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी। स्वाति मालीवाल ने इस मामले में CBI जांच की मांग की थी। उन्होंने अंजलि की दोस्त निधि पर भी सवाल उठाए थे।

स्वाति ने कहा था कि अंजलि का जब एक्सीडेंट हुआ, उस दौरान निधि भी साथ थी, लेकिन वह अंजलि को तड़पता छोड़कर भाग गई थी। स्वाति ने कहा था कि मुझे लगता है कि निधि की जांच होना बहुत जरूरी है। उसके सारे फोन रिकॉर्ड्स की चेकिंग होनी चाहिए। अंजलि चिल्ला रही थी, मदद मांग रही थी, लेकिन फिर भी निधि ने उसकी मदद नहीं की।

स्वाति मालीवाल ने 5 जनवरी को अंजलि केस में CBI जांच की मांग की थी, अंजलि को कार सवार आरोपियों ने 12 किमी तक घसीटा था।
स्वाति मालीवाल ने 5 जनवरी को अंजलि केस में CBI जांच की मांग की थी, अंजलि को कार सवार आरोपियों ने 12 किमी तक घसीटा था।

कौन हैं स्वाति मालीवाल?
स्वाति मालीवाल 2015 से दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष हैं। लगातार तीन बार उनका कार्यकाल बढ़ाया जा चुका है। महिला उत्पीड़न के कई मुद्दों पर वह PM को पत्र लिख चुकी हैं। राम रहीम के पैरोल पर जेल से बाहर आने पर वह इसका विरोध कर चुकी हैं और पीएम को पत्र लिखकर पैरोल नियमों में संशोधन की मांग कर चुकी हैं।

स्वाति मालीवाल से जुड़ीं ये खबरें भी पढ़ें…

मासूमों से रेप के विरोध में मांगी फांसी:अनशन पर बैठी, सरकार ने बनाया कानून. अन्ना हजारे के आंदोलन से मिली पहचान

‘मैंने बचपन से ही अपने घर की चारदीवारी में डोमेस्टिक वॉयलेंस देखा। मां और पापा के रिश्ते की कड़वाहट को मैंने गहराई से महसूस किया। मैंने शुरू में अपनी मां को जिस दर्द से गुजरते देखा, उसे बयां करना मुश्किल है, शायद इसीलिए मैं दूसरों के लिए काम कर पाती हूं।’ ये कहना है दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल का!

Leave a Comment