अभद्र टिप्पणी पर सिद्धारमैया की सफाई, कहा- ‘मेरा इरादा CM बोम्मई का अपमान करना नहीं था’

अभद्र टिप्पणी पर सिद्धारमैया की सफाई, कहा- 'मेरा इरादा CM बोम्मई का अपमान  करना नहीं था' - Karnataka news siddaramaiah clarification on objectionable  remarks on cm bommai

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता)

हुबली, एजेंसी। कर्नाटक में नेता प्रतिपक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई पर की गई टिप्पणी को लेकर सफाई दी है। उन्होंने कहा कि मैंने उन पर कोई आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की थी। इसे गलत समझा गया है। मेरा इरादा सीएम का अपमान करना नहीं है। मैंने उन्हें कहा कि उनमें राष्ट्रीय नेताओं के सामने बोलने का साहस होना चाहिए। राज्य की बेहतरी के लिए उन्हें संघ के नेताओं से डटकर बात करनी चाहिए। बहादुर होकर काम करना चाहि

अपनी सफाई में सिद्धारमैया ने आगे कहा कि वे भी मुझे तगारू (भेड़) और हुली (बाघ की तरह) कहते हैं, क्या इसे भी अपमान माना जाएगा? ग्रामीण क्षेत्रों में जानवरों और पेड़ों की तुलना आम है और मैंने उस संदर्भ में वह बात कही थी।

सिद्धारमैया ने अपनी सफाई में आगे कहा कि जब मैं हिंदू हूं तो मैं हिंदू विरोधी कैसे हो सकता हूं? मैं हिंदू हूं लेकिन मैं हिंदुत्व का विरोध करता हूं। मैं हिंदुत्व के नाम पर राजनीति करने का विरोध करता हूं। संविधान में यह उल्लेख किया गया है कि सभी धर्म समान हैं। कर्नाटक में आगामी चुनाव को देखते हुए जुबानी जंग तेज हो गई है और इसी को देखेत हुए सिद्धारमैया ने सीएम बोम्मई और अन्य नेताओं के प्रति आपत्तिजनक टिप्पणी की थीं। उन्होंने कहा था की ये सभी नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने कांपते हैं।

सिद्धारमैया ने की थी अभद्री टिप्पणी

पूर्व सीएम व वरिष्ठ कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने अपने बयान में कहा था कि कर्नाटक के सभी नेता प्रधानमंत्री के सामने कांपते हैं। इससे पहले, जेडीएस नेता व कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी ने गृह मंत्री अमित शाह को लेकर एक विवादित बयान दिया था। उन्होंने अमित शाह की तुलना नाजी प्रचारक जोसेफ गोएबल्स से कर दी थी, जो प्रोपेगेंडा करता था।

Leave a Comment