सर्दी का टार्चर, कड़ाके की ठंड से हाथ पैर कांपे, सीजन की सबसे सर्द रात तापमान @5.4 डिग्री

Meerut Weather: सर्दी का टार्चर, कड़ाके की ठंड से हाथ पैर कांपे, सीजन की सबसे  सर्द रात तापमान @5.4 डिग्री - Meerut Weather Update Severe Cold Night  Temperature Down In Season Forecast

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता)

नए साल में ठंड का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार को सुबह से ही हाड़ कंपाने वाली ठंड जारी है। रात में न्यूनतम तापमान 5.4 डिग्री दर्ज किया गया। यह सीजन का सबसे कम न्यूनतम तापमान था। दिन निकलने के बाद भी कुहासा छाया रहा। ठंड के प्रकोप अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सुबह 8:30 बजे भी तापमान 6.2 डिग्री पर ही पहुंच सका । जिससे दोपहर 12:30 बजे तक सूर्य देव के दर्शन नहीं हुए। सड़कों पर शिख से नख तक गर्म कपडो से शरीर ढके होने के बावजूद भी लोगों की कंपकंपी थमने का नाम नहीं ले रही थी।घने कोहरे ने ट्रेन और बसों का ट्रेनों और बसों का संचालन बेपटरी कर दिया है। गुरुवार को नौचंदी एक्सप्रेस 12:45 बजे 5 घंटा विलंब से सिटी स्टेशन पहुंची। विलंब से चलने के कारण ट्रेन का संचालन गुरुवार रात को 1 घंटा 36 मिनट विलंब से होगा लखनऊ के लिए ट्रेन मेरठ से रात 8.41 बजे रवाना होगी।संगम 2 घंटा विलंब से स्टेशन पहुंची। राज्यरानी ट्रेन का हाल तो और बुरा रहा लखनऊ से चलकर मेरठ रात 10:30 बजे पहुंचने वाली ट्रेन गुरुवार को सुबह 8:00 बजे के बाद सिटी स्टेशन पहुंची। रोज सुबह 6:40 बजे रवाना होने वाली ट्रेन सुबह 11:45 बजे रवाना होगी। 5:15 घंटा विलंब से चल रही है।

  • शरीर को गरम रखने के लिए ऊनी गर्म कपड़े पहनें।
  • नियमित रूप से स्किन को मास्चराइज रखें।
  • तेज गरम पानी के बजाए हल्के गरम पानी से स्नान करें।
  • कोहरे में सुबह टहलने से बचें। हृदय रोगी, सांस रोगी विशेष ध्यान रखें। सर्दी मौसम में हो सकती है ये समस्या
  • सर्दी के मौसम में ड्राई स्किन और निमोनिया की शिकायत अधिक होती है।
  • कान का इंफेक्शन अधिक होता है। कान को ठंड से लगने से बचाने के लिए मफलर से ढकें।
  • उम्रदराज लोगों के जोड़ों में जकड़न की आ जाती है। गठिया में दिक्कत होती है।
  • सिरदर्द, नाक बंद, शरीर में दर्द, खांसी, छींकना और फ्लू की समस्या सर्द मौसम में आम बात है। इससे बचने के लिए गरम कपड़े से तन को ढककर रखें। सर्दी, जुकाम और खांसी हो तो गरम पानी के गरारे करें।

जिले के कक्षा आठवीं तक के सभी बोर्ड के स्कूलों में भी सात जनवरी तक शीतकालीन अवकाश रहेगा। अवकाश के बावजूद स्कूल खोलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यह आदेश बुधवार को बीएसए विश्व दीपक त्रिपाठी ने जारी किया है। बीएसए ने बताया कि बेसिक शिक्षा परिषद से संचालित तथा परिषद से मान्यता प्राप्त प्राथमिक व जूनियर स्कूलों में गत 31 दिसंबर से 14 जनवरी तक शीतकालीन अवकाश घोषित किया गया है। जिस कारण यह सभी स्कूल बंद हैं।

Leave a Comment