आज की राजनीति पर कॉमिक सटायर है फ़िल्म "लव यू लोकतंत्र"

Advertisement

पॉलिटिकल सटायर फिल्म 'लव  यू लोकतंत्र' का ट्रेलर और म्युज़िक लॉन्च – Samar  Saleel

Advertisement

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता)

फ़िल्म समीक्षा : लव यू लोकतंत्र
कलाकार ; ईशा कोप्पिकर, रवि किशन, मनोज जोशी, स्नेहा उल्लाल, अली असगर, कृष्णा
अभिषेक, सपना चौधरी, अमित कुमार
निर्देशक : अभय निहलानी
रेटिंग : 3 स्टार्स
सिनेमा अब रियलिस्टिक बनने लगा है, ऐसी कहानी फिल्मों में पेश की जाती है जिससे दर्शक रिलेट
कर सकें। इस सप्ताह रिलीज हुई पोलिटिकल सटायर फ़िल्म लव यू लोकतंत्र एक ऐसा ही सब्जेक्ट है
जो आज की राजनीतिक हलचल के बारे में है। फ़िल्म में ईशा कोप्पिकर, रवि किशन, मनोज जोशी,
स्नेहा उल्लाल, अली असगर, कृष्णा अभिषेक, सपना चौधरी, अमित कुमार ने महत्वपूर्ण भूमिका
निभाई है।
लव यू लोकतंत्र दरअसल आजके राजनीतिक हालात पर व्यंग्य है जिसे बड़े हास्यास्पद तरीके से
दर्शाया गया है। फ़िल्म वर्तमान भारतीय राजनीति पर कॉमिक ढंग से सटायर है। उत्तर भारत की
बोली के साथ यह राजनीतिक सिचुएशन पर टिप्पणी करता नजर आती है। देखा जाए तो यह फ़िल्म
एक महिला मुख्यमंत्री, एक पुरुष वकील और एक महिला एडवोकेट के इर्दगिर्द घूमती कहानी है
जिसमें सरकार गठन का दिलचस्प प्लॉट है। दो अपहृत निर्दलीय विधायकों के पास सरकार बनाने की
चाभी है, लेकिन रातों-रात उन्हें किडनैप कर लिया जाता है। वकील और जर्नलिस्ट सरकार बनाने की
अपनी रणनीतियों और योजनाओं के साथ फिल्म को रोचक बनाते हैं।
फ़िल्म लव यू लोकतंत्र में वकील से अभिनेता बने अमित कुमार स्नेहा उल्लाल के साथ रोमांस करते
नजर आ रहे हैं।

फिल्म को अभय निहलानी ने बड़ी कुशलता से निर्देशित किया है। संगीतकार ललित पंडित ने अपने
आकर्षक संगीत के साथ बेहतरीन गाने दिए हैं। फ़िल्म में प्रमुख सिंगर अमृता फडणवीस, दलेर
महेंदी, अभिजीत, शान, प्रतिभा बघेल हैं। फिल्म में सपना चौधरी का एक धमाकेदार आइटम गीत भी
है। फ़िल्म में इतना ड्रामा, सस्पेंस और क्लाइमेक्स दृश्य इतना बढ़िया है कि दर्शकों को अपनी सीटों
से बांध कर रखता है। फिल्म में एक संपूर्ण मनोरंजन के सभी मसाले हैं और इसे आम दर्शकों द्वारा
खूब पसंद किया जाएगा।
फ़िल्म में कई जानदार और सीटियां मारने वाले डायलॉग हैं। ईशा कोपिकर एक सीन में कहती है
"राजनीति में मौका देखकर धोखा देना चाहिए।" उनका एक और संवाद मजेदार है "जिसे शर्म आती है
उसे राजनीति नहीं आती।"
जहां तक अभिनय की बात है रवि किशन ने अपनी अदाकारी की छाप छोड़ी है। ईशा कोपिकर ने
एक मुख्यमंत्री की भूमिका के साथ न्याय किया है। मनोज जोशी, स्नेहा उल्लाल, कृष्णा अभिषेक
और अमित कुमार ने भी अपने अभिनय से पॉलिटिकल सटायर फिल्म "लव यू लोकतंत्र" को देखने
लायक बना दिया है।
जुरिच मीडिया हाउस एलएलपी के बैनर तले बनी इस कॉमेडी फिल्म में कॉमिक अंदाज में आजके
राजनीतिक हालात पर कटाक्ष किया गया है। संजय छैल ने फ़िल्म की कहानी को काफी अच्छे ढंग से
लिखा है। रियल लाइफ में वकील होते हुए भी अमित कुमार ने इस फ़िल्म में वकील का किरदार
प्रभावी ढंग से निभाया है। लव यू लोकतंत्र देखें आप इसे लव करेंगे।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer