दिल्ली पुलिस ने अवैध हथियार गिरोह का भंडाफोड़ किया, चार गिरफ्तार

Advertisement

नई दिल्ली – अतुल अग्रवाल

Advertisement

नई दिल्ली, 15 अक्टूबर (वेब वार्ता)। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने राजधानी से एक ट्रक चालक को गिरफ्तार कर मध्य प्रदेश में चल रही हथियार बनाने की फैक्टरी का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने हथियार बनाने वाले व्यक्ति समेत कुल चार आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपितों की पहचान ट्रक चालक गांव विठोली, इटावा, यूपी निवासी जनक सिंह (32), हथियार निर्माता भिंड, मध्य प्रदेश निवासी राजीव ओझा उर्फ टाटा, इसका साथी लक्ष्मी नारायण उर्फ बाबा (42) और जाफराबाद दिल्ली निवासी छात्र रशीद (22) के रूप में हुई है। जनक सिंह अपने जानकार लक्ष्मी नारायण के जरिये राजीव ओझा से हथियार लेता था। बाद में दिल्ली-एनसीआर लाकर
उनको बेच देता था। रशीद नामक ग्रेजुएशन का छात्र जनक सिंह से हथियार लेकर दिल्ली-एनसीआर के बदमाशों को बेचता था। जनक के खिलाफ उत्तराखंड के हल्द्वानी में हथियार तस्करी का मामला दर्ज है। पुलिस ने आरोपितों के पास से कुल सात पिस्टल, 27 कारतूस और हथियार बनाने के उपकरण बरामद किए हैं। पुलिस पकड़े गए आरोपितों पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है। अपराध शाखा के विशेष आयुक्त रविंद्र यादव ने बताया कि एक सूचना के बाद टीम ने जहांगीरपुरी से जनक सिंह को गिरफ्तार किया था। उसके पास से चार पिस्टल और 16 कारतूस बरामद किए थे। पूछताछ के दौरान आरोपित ने बताया कि वह पेशे से ट्रक चालक है। 2019 में उसने मध्य प्रदेश से हथियार लाकर दिल्ली-एनसीआर के अलावा यूपी और उत्तराखंड में सप्लाई करना शुरू किया था। वर्ष 2021 में हथियार सप्लाई करते हुए हल्द्वानी पुलिस ने उसे दबोचा था। आरोपित ने हथियार सप्लाई के लिए दिल्ली-एनसीआर में अपना नेटवर्क बनाया हुआ था। वह पिछले तीन सालों के दौरान दिल्ली-एनसीआर में 60 से 70 पिस्टल सप्लाई कर चुका है। पूछताछ के दौरान आरोपित ने बताया कि वह अपने दोस्त मनीष के जानकार लक्ष्मी नारायण उर्फ कल्लू बाबू के जरिये राजीव ओझा नामक हथियार निर्माता से पिस्टल लाता है। पुलिस ने पहले भिंड से लक्ष्मी नारायण को गिरफ्तार किया। इसके पास से दो पिस्ब्टल बरामद हुई। इसके बाद भिंड में ही चल रही राजीव ओझा की फैक्टरी में छापेमारी की गई। बाद में उसे भी भिंड से गिरफ्तार कर उसके पास से एक पिस्टल, हथियार बनाने के उपकरण व अतिरिक्त मैगजीन बरामद हुई। जनक से पूछताछ के बाद पुलिस ने जाफराबाद, दिल्ली निवासी रशीद नामक छात्र को दबोचा। पूछताछ के दौरान रशीद ने बताया कि वह वाहिद और सद्दाम नामक बदमाशों को उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हथियार सप्लाई करता था। वाहिद की हत्या हो चुकी है जबकि सद्दाम फरार है। पुलिस आरोपितों से पूछताछ कर मामले की छानबीन में जुटी है। सद्दाम की तलाश की जा रही है। राजीव मध्य प्रदेश में कस्टमर सर्विस प्वाइंट एजेंट है। लक्ष्मी नारायण सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता है। वहीं रशीद ग्रेजुएशन का छात्र है और जाफराबाद में उसका अपना गारमेंट का कारोबार है।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer