भारत ने मेहमान टीम से श्रंखला 2-1 से अपने पक्ष में की कुलदीप यादव ने चटकाई चार विकेट

नई दिल्ली – विजय कुमार मेट्रो एडिटर

नई दिल्ली – 11 अक्टूबर। थैंक्स फिरोजशाह कोटला मैदान के कर्मचारी जिनकी बदौलत आज यहां भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेला गया निर्णायक मैच मेजबानटीम की झोली मैं चला गया। अगर यह कर्मचारी अपनी मेहनत से पिछले चार दिनों की बारिश से गीले मैदान को खेलने लायक नहीं बनाते तो आज यह श्रंखला भारत 2-1 से अपने पक्ष में नही कर पाता और निर्णय एक-एक की बराबरी पर समाप्त होती।

भारत ने तीन मैचों की श्रंखला में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेलने गए इस तीसरे और निर्णायक मुकाबले में 7 विकेट से जीत दर्ज की। या हम यह कहें कि दिल्ली के आखिरी मुकाबले में भारतीय गेंदबाजी का दम भी देखने को मिला। भारत के युवा गेंदबाजों ने 27.1 ओवर में दक्षिण अफ्रीका की पूरी टीम को 99 रनों पर ऑल आउट कर दिया। बाएं हाथ के स्पिनर कुलदीप यादव की अगुआई में स्पिन तिकड़ी ने 10 में से
आठ विकेट चटकाए। कुलदीप यादव ने 4.1 ओवर में 18 रन पर चार विकेट चटकाए। ऑफ स्पिनर वाशिंगटन सुंदर ने चार ओवर में 15 रन पर दो विकेट लिए। बाएं हाथ के स्पिनर शाहबाज अहमद के खाते में सात ओवर में 32 रन पर दो विकेट आए। यानी तीनों ने मिलकर 15.1 ओवर में 65 रन देकर आठ विकेट चटकाए जिससे दक्षिण अफ्रीका की टीम 27.1 ओवर में सिमट गई। तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने भी पांच ओवर में 17 रन देकर दो विकेट हासिल किए। जिसके साथ ही भारत ने तीन एकदिवसीय श्रृंखला पर 2-1 से अपना कब्जा जमा लिया है।

मैच से एक दिन पूर्व लग रहा था कि राजधानी में पिछले चार दिन से हो रही लगातार बारिश के कारण मैच हो गया भी नहीं। लेकिन कोटला के मैदानी कर्मचारियों की मेहनत रंग लाई और परिणाम भारत के पक्ष मैं रहा। शिखर ने अपने घरेलू मैदान पर टॉस जीतकर पहले दक्षिण अफ्रीका को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। दक्षिण अफ्रीका की पूरी टीम 99 रन पर ऑल आउट हो गई  थी। भारत को जीत के लिए 100 रन बनाने थे। भारत में 100 रनों का लक्ष्य 3 विकेट के नुकसान पर 19.1 ओवर में हासिल कर लिया। भारत की ओर से सबसे
ज्यादा रन शुभमन गिल ने बनाए। वह भी दिल्ली के ही खिलाडी है। गिल ने 8 चौकों की मदद से 49 रन बनाए। कप्तान शिखर धवन सिर्फ 8 रन का ही योगदान दे सकें। वही ईशान किशन भी 10 रन बनाकर आउट हो गए। बाद में श्रेयस अय्यर और शुभमन गिल के बीच एक अच्छी साझेदारी हुई।

भारत ने तीन एकदिवसीय मुकाबलों का पहला मुकाबला लखनऊ में खेला गया था जो कि बारिश से प्रभावित था। इस मुकाबले में भारत को हार मिली थी। बाद में भारतीय टीम ने रांची में शानदार वापसी करते हुए दक्षिण अफ्रीका को हराया था। दिल्ली के आखिरी मुकाबले में भारत ने एकतरफा जीत हासिल की। वहीं, आज भारतीय गेंदबाजी का दम भी देखने को मिला। भारत के युवा गेंदबाजों ने 27.1 ओवर में दक्षिण अफ्रीका की पूरी टीम को 99 रनों पर ऑल आउट कर दिया। दक्षिण अफ्रीका की ओर से हेनरिक क्लासेन (34) शीर्ष स्कोर रहे। उनके अलावा सलामी बल्लेबाज जानेमन मलान (15) और मार्काे जेनसन (14) ही दोहरे अंक में पहुंच पाए। दक्षिण अफ्रीका का इस साल यह दूसरा सबसे कम स्कोर है।

इससे पहले टीम 22 जुलाई को इंग्लैंड के खिलाफ मैनचेस्टर में सिर्फ 83 रन पर सिमट गई थी। दक्षिण अफ्रीका की शुरुआत बेहद खराब रही और टीम ने 10 ओवर में 26 रन तक ही तीन विकेट गंवा दिए थे और टीम इससे कभी नहीं उबर पाई। लगातार चार दिन की बारिश के बाद पिच से गेंदबाजों को मदद मिल रही थी। भारत ने गेंदबाज का आगाज वाशिंगटन से हराया। उन्होंने अपने दूसरे और पारी के तीसरे ओवर में ही क्विंटन डिकॉक (06) को आवेश खान के हाथों कैच करा दिया।

Leave a Comment