इजराइल अंतर्राष्ट्रीय कानून के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दिखाए : फिलिस्तीन

Advertisement

इजराइल-फिलिस्तीन विवाद और भारत के राष्ट्रीय हित - समसामयिकी लेख | ध्येय  IAS® - Best UPSC IAS CSE Online Coaching | Best UPSC Coaching | Top IAS  Coaching in Delhi | Top CSE Coaching

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

रामल्लाह, 03 अक्टूबर फिलस्तीन ने यूरोपीय देशों से इस्राइल के साथ अपने संबंधों को
अंतर्राष्ट्रीय कानून, संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों और मानवाधिकार सिद्धांतों का पालन करने का आग्रह
किया है।
फिलीस्तीनी विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को वेस्ट बैंक में
फिलिस्तीनियों पर अत्याचार के लिए सीधे तौर पर इजरायल को जिम्मेदार ठहराना चाहिए। अत्याचार
तुरंत रोकने के लिए उस परवास्तविक दबाव डालना बेहद जरूरी है।
समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने बयान के हवाले से कहा, इजरायल स्थिति को संभालने पर जोर देता है,
और हम इस वृद्धि के खतरों को गंभीरता से देखते हैं जो इसके हितों की सेवा करता है। यह अपील
ब्रसेल्स में होने वाली ईयू-इजराइल एसोसिएशन काउंसिल की 12वीं बैठक से पहले आई है। बैठक में
व्यापार, ऊर्जा, जलवायु परिवर्तन, संस्कृति, विज्ञान और प्रौद्योगिकी जैसे विषयों को शामिल किया
जाएगा।
बैठक वेस्ट बैंक में इजरायली सेना और फिलिस्तीनियों के बीच चल रहे तनाव के बीच हो रही है।
आधिकारिक फिलिस्तीनी आंकड़ों के अनुसार, वेस्ट बैंक में इजरायली सैनिकों ने जनवरी की शुरुआत

से अब तक 100 से ज्यादा फिलिस्तीनियों को मार डाला है। इसके विपरीत, मार्च के बाद से
इजरायल के शहरों में फिलिस्तीनियों द्वारा किए गए हमलों में 18 इजरायली मारे गए हैं।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer