शीर्ष 10 में से सात मूल्यवान कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1.16 लाख करोड़ रुपये घटा

Advertisement

Trending news: Mkt Cap of top 10 firms: Investors of 7 out of top 10  companies of Sensex lost Rs 1.16 lakh crore - Hindustan News Hub

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

नई दिल्ली, 02 अक्टूबर  देश की शीर्ष 10 मूल्यवान कंपनियों में से सात कंपनियों का
सम्मिलित बाजार मूल्यांकन पिछले हफ्ते शेयर बाजारों में काफी हद तक गिरावट का रुख रहने से
1,16,053.13 करोड़ रुपये घट गया और सर्वाधिक नुकसान रिलायंस इंडस्ट्रीज को उठाना पड़ा। बीते
सप्ताह में बीएसई के मानक सूचकांक सेंसेक्स में 672 अंक यानी 1.15 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की
गई।
सर्वाधिक मूल्यांकन रखने वाली शीर्ष 10 कंपनियों में से पिछले सप्ताह रिलायंस इंडस्ट्रीज,
एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसी बैंक, एसबीआई, भारती एयरटेल, बजाज फाइनेंस और एचडीएफसी
नुकसान में रहीं। वहीं टीसीएस, हिंदुस्तान यूनिलीवर और इंफोसिस के लिए यह हफ्ता बाजार
मूल्यांकन के हिसाब से फायदेमंद साबित हुआ।
सर्वाधिक मूल्यवान कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज को इस हफ्ते अपने बाजार मूल्यांकन में 41,706.05
करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा। सप्ताह के अंत में उसका बाजार पूंजीकरण 16,08,601.05
करोड़ रुपये पर आ गया। वहीं एसबीआई का मूल्यांकन 17,313.74 करोड़ रुपये घटकर 4,73,941.51
करोड़ रुपये रह गया।
निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक का मूल्यांकन 13,806.39 करोड़ रुपये गिरकर 6,01,156.60
करोड़ रुपये पर आ गया। इसी तरह एचडीएफसी बैंक के मूल्यांकन में 13,423.6 करोड़ रुपये की
गिरावट आई और यह 7,92,270.97 करोड़ रुपये रह गया।
इस दौरान आवासीय वित्त कंपनी एचडीएफसी लिमिटेड का मूल्यांकन 10,830.97 करोड़ रुपये गिरकर
4,16,077.03 करोड़ रुपये पर आ गया। वहीं बजाज फाइनेंस का मूल्यांकन 10,240.83 करोड़ रुपये
घटकर 4,44,236.73 करोड़ रुपये हो गया। भारती एयरटेल के मूल्यांकन में भी बीते हफ्ते 8,731.55
करोड़ रुपये की गिरावट दर्ज की गई और यह 4,44,919.45 करोड़ रुपये रहा।
हालांकि इंफोसिस के मूल्यांकन में इस सप्ताह 20,144.57 करोड़ रुपये की बढ़त रही और यह कुल
5,94,608.11 करोड़ रुपये हो गया। सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की एक अन्य कंपनी टीसीएस का भी
मूल्यांकन 7,976.74 करोड़ रुपये की वृद्धि के साथ 10,99,398.58 करोड़ रुपये हो गया।
हिंदुस्तान यूनिलीवर (एचयूएल) का बाजार पूंजीकरण बीते सप्ताह 4,123.53 करोड़ रुपये बढ़कर
6,33,649.52 करोड़ रुपये हो गया। बाजार पूंजीकरण में इस उतार-चढ़ाव के बावजूद रिलायंस
इंडस्ट्रीज देश की सबसे मूल्यवान कंपनी बनी हुई है। उसके बाद क्रमशः टीसीएस, एचडीएफसी बैंक,
एचयूएल, आईसीआईसीआई बैंक, इंफोसिस, एसबीआई, भारती एयरटेल, बजाज फाइनेंस और
एचडीएफसी का स्थान आता है।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer