कराची में चीनी मूल के चिकित्सक दंपति पर घातक हमले के मामले में सिंधी विद्रोही गुट पर

Advertisement

विदेश की खबरें | कराची में चीनी मूल के चिकित्सक दंपति पर घातक हमले के मामले  में सिंधी विद्रोही गुट पर मामला दर्ज | LatestLY हिन्दी

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

कराची, 30 सितंबर  पाकिस्तान की पुलिस ने कराची के वाणिज्यिक क्षेत्र में चीनी मूल के
दंत चिकित्सक दंपति और उनके सहयोगी पर अस्पताल में घुसकर घातक हमला करने के मामले में
एक सिंधी विद्रोही गुट ‘सिंधुदेश पीपुल्स आर्मी’ के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
एक बंदूकधारी ने मरीज के वेश में बुधवार को सदर क्षेत्र स्थित डॉ. रिचर्ड हू ली के दंत अस्पताल में
प्रवेश किया और केबिन में जांच के लिए बुलाये जाने पर उसने डॉ. ली, उनकी पत्नी मार्गरेट फेन
देयिन और सहायक रोनाल्ड चोव पर गोलीबारी कर दी।
हमले में सहायक की मौत मौके पर ही हो गई, जबकि 76 वर्षीय हू और उनकी 72 वर्षीय पत्नी
मार्गरेट घायल हो गईं। वारताद को अंजाम देने के बाद हमलावर भागने में कामयाब रहा, क्योंकि पास
में ही मोटरसाइकिल सवार उसका सहयोगी उसके आने का इंतजार कर रहा था।
कराची पुलिस ने इस मामले में प्रतिबंधित संगठन सिंधुदेश पीपुल्स आर्मी के खिलाफ मामला दर्ज
कराया है। माना जा रहा है कि हमले करने के लिए यह संगठन सिंधी और बलोच अलगाववादी
संगठनों के गठजोड़ से बना है।
इस संगठन ने हमले के बाद सोशल मीडिया पर हमले की जिम्मेदारी ली थी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक
(दक्षिण) असद रजा ने कहा कि पीड़ितों के पास कनाडा और पाकिस्तान की नागरिकता थी।

सिंध के आतंकवाद निरोधक विभाग के राजा उमेर खत्ताब ने कहा कि हमला पूरी तरह टोह लेने के
बाद किया गया, क्योंकि चीनी मूल के चिकित्सक देश में पिछले 50 साल से रह रहे थे और वे अब
पाकिस्तानी थे।
चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने बृहस्पतिवार को कहा कि हमले में मारा गया व्यक्ति
उनके देश का नागरिक नहीं था।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer