विधवा महिला को रेलवे में टीटी की नौकरी दिलवाने का झांसा देकर ठगी

Advertisement

विधवा महिला को रेलवे में टीटी की नौकरी दिलवाने का झांसा देकर ठगी -  हिन्दुस्थान समाचार

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता)

नई दिल्ली, 14 सितंबर पूर्वी दिल्ली के गाजीपुर इलाके में एक विधवा महिला को रेलवे
में टीटी की नौकरी दिलवाने का झांसा देकर सात लाख रुपये की ठगी का मामला सामने आया है।

पति की मौत के बाद महिला को नौकरी की तलाश थी। ऐसे में महिला के जानकार व्यक्ति ने उसे
सरकारी नौकरी दिलवाने का झांसा दिया।
आरोपितों ने पीड़िता को उसकी पसंद के हिसाब के शहर में नौकरी दिलवाने की बात की थी। बाद में
फर्जी नियुक्ति पत्र लेकर उसे आगरा भेज दिया। एक माह वहां बिताने के बाद उसे ज्वाइन नहीं
कराया गया। ठगी का पता चलने पर मामले की सूचना साइबर थाना पुलिस को दी गई। छानबीन के
बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर मुख्य आरोपी माहिर हुसैन (45) को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस
इससे पूछताछ कर इसके बाकी साथियों का पता लगाने का प्रयास कर रही है। आरोपितों की तलाश
में छापेमारी की जा रही है।
पुलिस के मुताबिक पीड़िता रेखा रानी (36) परिवार के साथ गाजीपुर गांव में किराए के मकान में
रहती है। नवंबर 2018 में रेखा के पति विजय पाल सिंह की एक हादसे में मौत हो गई थी। तब से
रेखा को नौकरी की तलाश थी। मादीपुर निवासी माहिर हुसैन से रेखा का परिचय था। नौकरी की
तलाश के दौरान माहिर ने उससे कहा कि वह रेलवे में उसे विधवा कोटे से टीटी की सरकारी नौकरी
दिलवा देगा। उसके कई जानकार लोग हैं जो लोगों कुछ रुपये लेकर मदद करते हैं।
आरोपित पीड़िता को अपने साथियों से मिलवाने के लिए भजनपुरा एक दफ्तर में भी गया। रेखा का
विश्वास जीतने के बाद आरोपितों ने उससे पहले 3.50 लाख रुपये अपने खातों में जमा करवा लिये।
इसके बाद पीड़िता ने अपने घर पर माहिर हुसैन व अन्य लोगों को कई बार में करीब साढ़े तीन लाख
रुपये और दे दिए। माहिर ने पीड़िता को बताया कि नौकरी लगवाने में सोनू नामक व्यक्ति उनकी
मदद कर रहा है। सारे रुपये भी उसे ही दिए जा रहे हैं।
रुपये लेने के बाद आरोपितों ने पीड़िता को नजरअंदाज करना शुरू कर दिया। जोर देने पर उसे नौकरी
के लिए आगरा भेजा गया। वहां पीड़िता ने करीब एक माह बिताई, जिसके बाद उसे पता चला कि
उसे कांट्रेक्टर के पास 18 हजार रुपये महीना पर नौकरी करना है। पीड़िता वापस दिल्ली आई। इसके
बाद आरोपित ने अपने मोबाइल नंबर भी बंद कर लिये। परेशान होकर पुलिस से शिकायत की गई।
पुलिस ने छानबीन के बाद माहिर हुसैन को गिरफ्तार कर लिया। अब उसके बाकी साथियों की तलाश
की जा रही है।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer