बिजली सब्सिडी बंद करने की जुगत में हैं केजरीवाल : बिधूड़ी

Advertisement

बिजली सब्सिडी बंद करने की जुगत में हैं केजरीवाल : बिधूड़ी - हिन्दुस्थान  समाचार

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता)

Advertisement

नई दिल्ली, 14 सितंबर दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा
कि केजरीवाल सरकार अब ज्यादा से ज्यादा लोगों की बिजली सब्सिडी बंद करने के रास्ते तलाश रही
है। अब हर व्यक्ति को सरकार के आगे हाथ फैलाना बिजली की सब्सिडी मांगनी होगी।
बिधूड़ी ने बुधवार को एक प्रेसवार्ता के दौरान कहा कि दिल्ली में 58 लाख बिजली के उपभोक्ता हैं।
सरकार ने सभी से फार्म भरने के लिए कहा है। इसको लेकर पहले ही दिन से सोशल मीडिया पर
लोगों की शिकायत आनी शुरू हो गई हैं। उन्होंने कहा कि अगर केजरीवाल सरकार की नीयत साफ
होती तो वह कहती कि सभी को सब्सिडी जारी रहेगी लेकिन जो सब्सिडी नहीं लेना चाहते, केवल वही
फार्म भरें।
उन्होंने कहा कि अगर किसी को सब्सिडी मिलती भी है तो ज्यादा से ज्यादा 800 रुपये महीने का ही
फायदा होता है जबकि सरकार दूसरी मदों में उनसे बिल के रूप में मोटी रकम वसूल रही है। दिल्ली
में फिक्स्ड चार्ज के नाम पर घरेलू उपभोक्ता से 125 रुपये प्रति किलोवाट और कमर्शियल से 270
रुपये प्रति किलोवाट हर म हीने वसूला जा रहा है जो कि पूरे देश में सबसे ज्यादा है।
उन्होंने कहा कि दिल्ली में घरेलू उपभोक्ताओं को औसतन 08 रुपये प्रति यूनिट और कमर्शियल
उपभोक्ताओं को 13 से 18 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से बिजली का बिल देना पड़ता है और यह
भी देश में सबसे ज्यादा है। सरकार को अगर उपभोक्ताओं को राहत देनी है तो फिक्स्ड चार्ज तुरंत
खत्म होना चाहिए।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि बिजली कर्मचारियों को पेंशन देना सरकार की जिम्मेदारी है लेकिन
केजरीवाल सरकार पेंशन देने के लिए भी उपभोक्ताओं से ही वसूली कर रही है। यही नहीं, बिजली
कर्मचारियों को हर महीने मुफ्त मिलने वाले 700 यूनिट की सुविधा का बिल भी उपभोक्ता अदा कर
रहे हैं।

दिल्ली 12-16
गाजीपुर कूड़े का पहाड़ देखने पहुंचे दिल्लीवासियों को पुलिस ने रोका
-विधायक आतिशी के नेतृत्व में आम जनता ने किया प्रदर्शन
नई दिल्ली, 14 सितंबर (वेब वार्ता)। ‘आप’ की विधायक आतिशी ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए
कहा कि गाजीपुर कूड़े का पहाड़ देखने पहुंचे दिल्लीवासियों को भाजपा की दिल्ली पुलिस ने जबरन
बैरिकेड लगाकर रोक दिया। इसके बाद विधायक आतिशी के नेतृत्व में आम जनता ने जमकर प्रदर्शन
किया। विधायक आतिशी ने कहा कि जिस तरह लोग घरों से कूड़े को बाहर करते हैं, ठीक वैसे ही
आगामी एमसीडी चुनावों में भाजपा को दिल्ली से बाहर कर देंगे।
भाजपा की दिल्ली पुलिस को लगता है कि वह बैरिकेड लगाकर दिल्ली वालों को कूड़े का पहाड़ देखने
से रोक देंगे। यह पहाड़ तो दो किलोमीटर दूर से दिख रहा है। दिल्ली में कूड़े के पहाड़ तब दिखना
बंद होंगे जब भारतीय जनता पार्टी दिल्ली को कूड़ा कूड़ा करना बंद करेगी।
आम आदमी पार्टी ने आज से दिल्ली में भाजपा के कूड़ा- कूड़ा चमत्कार के खिलाफ 14 सितंबर से
14 अक्टूबर तक प्रदेशव्यापी कूड़ा विरोधी अभियान शुरू कर दिया है। इसके पहले चरण में तीन दिन
का भाजपा का चमत्कार देखो, कूड़े का पहाड़ देखो अभियान चलाया गया। इसमें 14 सितंबर को
गाज़ीपुर लैंडफिल साइट पर दिल्ली के लोगों को विधायक आतिशी के नेतृत्व में कूड़े का पहाड़ दिखाने
ले जाया गया। लेकिन गाज़ीपुर लैंडफिल साइट पहुंचने से पहले ही दिल्ली पुलिस ने लोगों को बैरिकेड
रोक दिया। जिसके बाद लोगों ने विधायक आतिशी के नेतृत्व में जमकर प्रदर्शन किया। अब 15
सितंबर को ओखला और 16 सितंबर को भलस्वा लैंडफिल साइट दिखाए जाएंगे। इससे की दिल्ली
वासी समझ सकें कि वहां आसपास के लोग कैसे ज़िंदगी जी रहे हैं। क्योंकि वहां भी आबादी रहती है।
वहां जब आग लगती है तो कैसे हालात बन जाते है।
आतिशी ने कहा कि वर्तमान गति से निस्तारण हुआ से तो इन कूड़े के पहाड़ों को साफ़ करने में 200
साल लग जाएंगे। अगर कूड़ा आना बंद हो जाए तब भी 27 साल लग जायेंगे। इसलिए हम कल से
भाजपा की इस कूड़े की देन और उनके 15 सालों के चमत्कार की सच्चाई दिखाने के लिए दिल्ली की

जनता को कूड़े के पहाड़ों पर आने का न्योता दे रहे हैं। हम कल गाज़ीपुर की लैंडफिल साईट पर
जायेंगे।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer