लिव-इन में रह रही महिला की हत्या करने वाले पुलिसकर्मी को भेजा जेल

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

फरीदाबाद, 28 अगस्त लिव-इन रिलेशन में रह रही महिला की हत्या करने वाले आरोपी पुलिसकर्मी को
रविवार पुलिस ने अदालत में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। फिलहाल मृतक
महिला का शव बरामद नहीं हो पाया है। शव की तलाश के लिए एनडीआरएफ, एसडीआरएफ की टीम बुलाई गई है,
जिन्होंने रविवार को आगरा नहर में छानबीन की, लेकिन शव बरामद नहीं हुआ। टीम शव की तलाश में जुटी हुई
है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह के अनुसार आरोपी गणेश बदरपुर सैद का रहने वाला है।
आरोपी वर्ष 2009 में हरियाणा पुलिस में भर्ती हुआ था। आरोपी की पहले एक शादी महिला पुलिसकर्मी से वर्ष
2010 में हुई थी। पुलिसकर्मी महिला को 2 लडक़े हैं। जो घरेलू झगड़ा रहने की वजह से महिला दोनों लडक़ों को
लेकर वर्ष 2017 से अलग रह रही है। वर्ष 2018 में आरोपी गणेश की मुलाक़ात पलवल के गांव बघौला की रहने
वाली सोनम से शादी समारोह में हुई। आरोपी का लडक़ी के साथ मिलना-जुलना शुरू हो गया और वर्ष 2020 से

दोनों लिव-इन रिलेशनशिप में रहने लगे। दोनों को वर्ष 2021 में एक लडक़ी पैदा हुई। इसके बाद दोनों में किसी ना
किसी बात को लेकर झगड़ा होता रहता था। दोनों एक दूसरे पर शक करने लगे।
आरोपी ने आपसी कहासुनी में लडक़ी सोनम की चुन्नी से गला दबाकर हत्या कर लाश को बक्से में बंद कर पलवल
के छज्जूनगर आगरा कैनाल नहर में फेंक दिया। लडक़ी के भाई जीतू को फोन कर बताया कि सोनम किसी बात
को लेकर झगड़ा होने पर घर से चली गई है। इस पर लडक़ी के परिजनों ने थाना भूपानी में लडक़ी के संबंध में
गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। लडक़ी के परिजन आरोपी गणेश के साथ मिलकर लडक़ी की तलाश कर रहे थे,
लेकिन लडक़ी का कहीं पता नहीं चला।
क्राइम ब्रांच सेंट्रल की टीम ने आरोपी गणेश को शक होने पर पूछताछ की। सख्ती से पूछताछ में आरोपी ने बताया
कि आपसी कहासुनी के कारण सोनम को चुन्नी से गला दबाकर हत्या कर दी थी। उसका शव बक्से में बंद कर
पलवल फेंक आया था। आरोपी से मृतक सोनम का मोबाइल फोन बरामद कर लिया गया है।

Leave a Comment