रूस ने परमाणु संयंत्र के नजदीकी शहरों पर गोलाबारी की : यूक्रेन

रूस-यूक्रेन युद्ध: यूक्रेन में यूरोप के सबसे बड़े परमाणु संयंत्र पर गोलाबारी  के बाद रूस का कब्ज़ा

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता)

कीव, 27 अगस्त  यूक्रेन के अधिकारियों ने शनिवार को दावा किया कि रूसी सेनाओं ने यूरोप के सबसे
बड़े जैपोरिजिया परमाणु ऊर्जा संयंत्र के निकट नीपर नदी के उस पार यूक्रेन के कब्जे वाले हिस्सों में मिसाइल और
तोप से हमले किए हैं।
इसके साथ ही उक्त परमाणु संयंत्र की सुरक्षा को लेकर चिंता पैदा हो गई है, जो इस समय रूसी कब्जे में है और
जिसे अस्थायी रूप से बंद किया गया है।
निप्रॉपेट्रोस क्षेत्र के गवर्नर वालेंटिन रेजनिचेंको ने बताया कि ग्राड मिसाइल और तोप के गोलों से निकोपोल और
मारहानेट्स पर हमले किये गये हैं। यह क्षेत्र परमाणु ऊर्जा संयंत्र के निकट नीपर नदी के उस पार मात्र 10
किलोमीटर दूर स्थित है।
रूसी सेना ने इस परमाणु संयंत्र पर युद्ध की शुरुआत में ही कब्जा कर लिया था और यूक्रेन के कर्मी इसका
परिचालन कर रहे हैं। दोनों पक्ष एक दूसरे पर संयंत्र पर गोलाबारी करने का आरोप लगा रहे हैं जिससे इलाके में
युद्ध भड़कने और विनाश होने की आशंका पैदा हो गई है।
अधिकारियों ने संयंत्र के करीब रहने वाले लोगों के बीच शुक्रवार को आयोडिन की टैबलेट बांटने की शुरुआत की,
ताकि विकिरण होने की स्थिति में बचाव हो सके।
यूक्रेन ने गोलाबारी का दावा, संयंत्र को अस्थायी रूप से बंद करने के एक दिन बाद किया है। अधिकारियों के
मुताबिक पारेषण लाइन में आग लगने की वजह से संयंत्र को अस्थायी रूप से बंद किया गया है।
हाल के उपग्रह तस्वीरों में दिखा था कि परिसर स्थित प्रयोगशाला से गत कई दिनों से आग की लपटें उठ रही हैं।

Leave a Comment