नारी सशक्तिकरण के लिए प्रौद्योगिकी का प्रयोग कर रहा है भारत : स्मृति ईरानी

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

नई दिल्ली/बाली, 25 अगस्त  केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने बुधवार को कहा कि
नारी सशक्तिकरण के लिए भारत प्रौद्योगिकी का प्रयोग कर रहा है और जमीनी स्तर पर डिजिटल सेवा उपलब्ध
करा रहा है।
श्रीमती ईरानी ने इंडोनेशिया के बाली में जी-20 मंत्रिस्तरीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि महिलाओं के
समग्र विकास के लिए भारत में अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया जा रहा है। इस सम्मेलन में जी- 20
देशों की महिला मुद्दों से संबंधित मंत्री भाग ले रही हैं। सम्मेलन का विषय “नारी सशक्तिकरण- डिजिटल लैंगिक
अंतर : डिजिटल अर्थव्यवस्था और भविष्य की कार्यप्रणाली में महिलाओं की भागीदारी” है।
श्रीमती ईरानी ने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में मोदी सरकार नारी सशक्तिकरण और समानता
के लिए प्रतिबद्ध है। इसके लिए अर्थव्यवस्था में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के उपाय किए जा रहे हैं।
अर्थव्यवस्था में महिलाओं की भागीदारी डिजिटल कार्यप्रणाली से बढ़ायी जा रही है।
सम्मेलन से अलग श्रीमती ईरानी ने इंडोनेशिया और आस्ट्रेलिया की मंत्रियों से मुलाकात की। वह यूरोपीय संघ की
समानता आयुक्त से भी मिली।
श्रीमती ईरानी ने इंडोनेशिया की नारी सशक्तिकरण एवं बाल संरक्षण मंत्री बिनतांग पुष्पायोग के साथ बैठक की।
दोनों मंत्रियों ने एक दूसरे के देश में महिला विकास और बाल संरक्षण से संबंधित चल रहे विभिन्न कार्यक्रमों और
योजनाओं की जानकारी ली और अपने अनुभवों का आदान-प्रदान किया। श्रीमती ईरानी ऑस्ट्रेलिया की वित्त, महिला
एवं जनसेवा मंत्री सेनकेटी जी. से भी मिली और उन्हें मोदी सरकार की महिला केंद्रित नीतियों और योजना जैसे
आवास, स्वास्थ्य और वित्तीय समावेशन आदि से अवगत कराया।
श्रीमती ईरानी ने एक ट्वीट में बताया कि वह यूरोपीय संघ समानता आयुक्त हेलनडल्ली से भी मिली‌ और उनके
साथ सार्थक बातचीत की।श्रीमती हेलनडल्ली ने भारत में महिला कल्याण के लिए जमीनी स्तर पर किए गए कार्यों
की सराहना की।

Leave a Comment