पाकिस्तान में सिख महिला की जबरन शादी को लेकर विरोध प्रदर्शन

Advertisement

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

पेशावर, 23 अगस्त । पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में एक सिख महिला की मुस्लिम पुरुष से
जबरन शादी के मामले में पुलिस की निष्क्रियता के खिलाफ अल्पसंख्यक सिख समुदाय के सदस्यों ने मंगलवार को
प्रदर्शन किया।

प्रदर्शनकारियों ने एक मुख्य मार्ग को घंटों जाम रखा। सिख समुदाय के सदस्यों ने अपने भाषणों में शिकायत की
कि स्थानीय पुलिस उनके साथ सहयोग नहीं कर रही है। उन्होंने जीवन और संपत्ति की सुरक्षा की मांग की।
उन्होंने कहा कि 25 वर्षीय सिख महिला मीना कुमारी को पहले भागने के लिए बाध्य किया गया और फिर जबरन
मुस्लिम व्यक्ति से उसकी शादी करा दी गई।
हालांकि, मीना कुमारी ने स्थानीय पुलिस के समक्ष अपने बयान में कहा कि उस पर कोई दबाव नहीं डाला गया
और वह अपनी मर्जी से मुस्लिम व्यक्ति के साथ गई थी। मीना कुमारी ने कहा, "मैं 25 साल की हूं और एक
सरकारी स्कूल में शिक्षिका हूं। मैंने इस्लामिक अध्ययन के बाद मुस्लिम लड़के से शादी की। मैं दारुल अमन नहीं
जाना चाहती हूं और अपने पति के साथ रहना चाहती हूं।’’
इस बीच एक घायल व्यक्ति को घंटों तक चले विरोध प्रदर्शन के कारण समय पर अस्पताल नहीं पहुंचाया जा सका
और उसकी मौत हो गई। मृतक के परिजनों ने शव को मुख्य सड़क पर रख प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कानूनी
कार्रवाई की

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer