आबकारी नीति पर जवाब देने के बजाय बिरादरी बता रहे केजरीवाल-सिसोदिया : भाजपा

Advertisement

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

नई दिल्ली, 23 अगस्त  भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को केजरीवाल सरकार की आबकारी
नीति को लेकर हमला जारी रखते हुए कहा कि पिछले साल से लगभग 3000 करोड़ से ज्यादा का नुकसान हुआ।
पार्टी ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया से आबकारी नीति को लेकर
सवाल पूछा जा रहा और वे जवाब देने के बजाय ईमानदारी और बिरादरी पर जानकारी दे रहे हैं।
भाजपा प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी, सांसद प्रवेश वर्मा और दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने यहां एक संयुक्त
संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। त्रिवेदी ने कहा कि वर्ष 2019-20 में 4000 करोड़ राजस्व मिला। वर्ष
2020-21 में 3300 करोड़ राजस्व प्राप्त हुआ और वर्ष 2022 में 158 करोड़ मिला। यानि पिछले साल से लगभग
3000 करोड़ से ज्यादा का नुकसान हुआ।

मनीष सिसोदिया द्वारा खुद को महाराणा प्रताप का वंशज बताने पर तंज कसते हुए त्रिवेदी ने कहा कि केजरीवाल
और सिसोदिया के ईमानदारी की कारगुजारी हम बताना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि यह नीतिगत बात है कोई
राजनीतिक बात नहीं है। हमें जवाब आबकारी नीति पर चाहिए, उनकी ईमानदारी और बिरादरी पर जानकारी नहीं
मांग रहे।
वहीं, भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा कि दिल्ली सरकार शराब ज्यादा बिकने का प्रचार नहीं कर सकती। लेकिन
एक पेटी के साथ एक फ्री बिक रही थी, इसका प्रचार किया जा रहा था और बाहर से आकर भी लोग खरीद रहे थे।
उन्होंने कहा कि कर्नाटक में सरकार थोकभाव में बेच रही है, यहां भी यही होना चाहिए।

Leave a Comment

Advertisement
What does "money" mean to you?
  • Add your answer