नेशंस कप जीतकर अगले सत्र में एफआईएच प्रो लीग में जगह बनाने पर नजरें : दीप

विनीत माहेश्वरी (संवाददाता )

बेंगलुरू, 30 अगस्त  भारतीय महिला हॉकी टीम की उपकप्तान दीप ग्रेस इक्का ने
मंगलवार को कहा कि बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में मिला कांस्य अब अतीत की बात है और उनकी
टीम का फोकस इस साल एफआईएच नेशंस कप जीतकर अगले सत्र में प्रो लीग में जगह बनाना है।
भारत, कनाडा, आयरलैंड, इटली, जापान, दक्षिण कोरिया, दक्षिण अफ्रीका और मेजबान स्पेन 10 से
17 दिसंबर तक वालेंशिया में नेशंस कप खेलेंगे। इसके विजेता को एफआईएच प्रो लीग में सीधे प्रवेश
मिलेगा।
इक्का ने हॉकी इंडिया द्वारा जारी विज्ञप्ति में कहा, ‘‘हमने बर्मिंघम में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन
अब वह बीती बात है। हमें अच्छा ब्रेक मिला और अब फिर खेल पर लौटना है। मुझे यकीन है कि
कोच यानेके शॉपमैन ने पिछले प्रदर्शन की समीक्षा करके रणनीति बनाई होगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमें
स्पेन में एफआईएच महिला हॉकी नेशंस कप में अच्छा प्रदर्शन करना होगा जिसके लिये तैयारी आज
से ही शुरू होगी। यह आसान नहीं है लेकिन हम कड़ी मेहनत करेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘नेशंस कप
जीतकर एफआईएच महिला प्रो लीग में सीधे प्रवेश मिल जायेगा। लक्ष्य हमारे सामने हैं और हमें सही
दिशा में कदम बढाना है।’’
भारतीय महिला टीम 2021.22 प्रो लीग में पदार्पण करते हुए तीसरे स्थान पर रही थी। भारत के
लिये 240 मैच खेल चुकी इक्का ने कहा, ‘‘बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक जीतने से टीम

का आत्मविश्वास बढा है। हम उस पल को कभी नहीं भूल सकते।’’ भारतीय महिला टीम ब्रेक के बाद
तैयारी शिविर के लिये यहां भारतीय खेल प्राधिकरण केंद्र पर एकत्र हो गई है।